Asianet News HindiAsianet News Hindi

मथुरा: कथावाचक अनिरुद्धाचार्य के आश्रम के बाहर दो महिलाओं का शव मिलने से मचा हड़कंप, लोगों ने लगाए गंभीर आरोप

वृंदावन में कथावाचक अनिरुद्धाचार्य के गौरी गोपाल आश्रम के सामने दो महिलाओं के शव मिलने से हड़कंप मच गया। स्थानीय लोगों ने आरोप लगाते हुए कहा कि कथा सुनने आने वाली महिला श्रद्धालुओं के साथ आश्रम प्रबंधन बुरा सुलूक करता है। 

Mathura dead bodies of two women were found outside ashram of narrator Anirudhacharya people made serious allegations
Author
First Published Oct 28, 2022, 1:31 PM IST

मथुरा: उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के वृंदावन में कथावाचक अनिरुद्धाचार्य के गौरी गोपाल आश्रम के सामने दो महिलाओं के शव पड़े मिले। शुक्रवार को आश्रम के बाहर शव पड़ा देख क्षेत्र में सनसनी फैल गई। जिसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने महिलाओं के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। फिलहाल अभी तक महिलाओं की मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। बता दें कि तीर्थनगरी की संत कॉलोनी में भागवत कथावाचक अनिरुद्धाचार्य का गौरी गोपाल आश्रम है।

आश्रम प्रबंधन को बताया मौत का जिम्मेदार
प्राप्त जानकारी दे अनुसार, दोनों मृतक महिलाओं की शिनाख्त लखनऊ की रहने वाली 61 वर्षीय चंपा गुप्ता और बिहार निवासी 68 वर्षीय सुशीला देवी के तौर पर हुई है। पुलिस ने इस मामले पर जानकारी देते हुए बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के सही कारणों की जानकारी हो पाएगी। वहीं स्थानीय़ लोगों ने आरोप लगाते हुए कहा कि गौरी गोपाल आश्रम प्रबंधन ही महिलाओं की मौत का जिम्मेदार है। वहीं बाबा मनमोहन दास ने पुलिस को बताया कि आश्रम में कथा सुनने वाले लोगों के साथ आश्रम प्रबंधन बहुत बुरा सुलूक करता है।

मामले की जांच में जुटी पुलिस
बाबा मनमोहन दास के अनुसार, कथावाचक अनिरुद्धाचार्य द्वारा महिलाओं की सेवा करना, भोजन वितरित करने आदि सेवाओं का प्रचार-प्रसार तो खूब किया जाता है। लेकिन आश्रम में आने वाले श्रद्धालुओं के विश्राम की कोई अनुचित व्यवस्था तक नहीं की जाती है। लोगों ने आरोप लगाते हुए कहा कि रात में श्रद्धालुओं को गौरी गोपाल आश्रम में रुकने तक नहीं दिया जाता है। आरोप है कि आश्रम के लोग महिलाओं को पीटकर बाहर निकाल देते हैं। वृंदावन कोतवाली प्रभारी सूरज प्रकाश शर्मा ने बताया कि मृतक महिलाओं के परिवार को उनकी मौत की सूचना दे दी गई है। पुलिस ने बताया कि परिजनों के आने के बाद ही पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। 

Gopashtami 2022: कब मनाया जाएगा गोपाष्टमी पर्व? जानें शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, कथा और महत्व

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios