Asianet News HindiAsianet News Hindi

64वें जन्मदिन पर मायावती ने दी BJP को नसीहत, बोली अगर नहीं संभले तो कांग्रेस से भी होगी बदतर हालत

बसपा सुप्रीमों मायावती ने बुधवार को अपने 64वें जन्मदिन पर बीजेपी और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, मोदी सरकार भी कांग्रेस के रास्ते पर ही चल रही है। राजनीतिक फायदे के लिए सत्ता का दुरुपयोग करने में लगी है। मोदी सरकार की गलत नीतियों की वजह से देश में अस्थिरता का माहौल पैदा हो गया है।

mayawati slams congress and bjp on her birthday KPU
Author
Lucknow, First Published Jan 15, 2020, 10:42 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh). बसपा सुप्रीमों मायावती ने बुधवार को अपने 64वें जन्मदिन पर बीजेपी और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, मोदी सरकार भी कांग्रेस के रास्ते पर ही चल रही है। राजनीतिक फायदे के लिए सत्ता का दुरुपयोग करने में लगी है। मोदी सरकार की गलत नीतियों की वजह से देश में अस्थिरता का माहौल पैदा हो गया है। कानून व्यवस्था की स्थिति बेहद खराब बनी हुई है। देश की अर्थव्यवस्था काफी खराब दौर से गुजर रही है। यह गंभीर चिंता का विषय है। 

कांग्रेस से भी हो जाएगी बदतर हालत
उन्होंने कहा, कांग्रेस की गलत नीतियों की वजह से ही जनता ने उसे बाहर का रास्ता दिखया था। अब बीजेपी भी उसी के रास्ते पर चल रही है। अगर ऐसा ही चलता रहा तो बीजेपी बाकी राज्यों से भी बाहर हो जाएगी। कानून व्यवस्था पर उन्होंने कहा, देश में तनाव और हिंसा फैलाने के मामले में कांग्रेस से बीजेपी आगे है। पिछले लोकसभा चुनाव में वह वापस तो आई, लेकिन अब उसी तरह का प्रदर्शन दोहराना मुश्किल है। बीजेपी के हाथ से एक एक कर सभी राज्य फिसलते जा रहे हैं। उसकी हालत कांग्रेस से भी बदतर होगी। 

जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाया जा रहा मायावती का जन्मदिन
इस बार मायावती के जन्मदिन को 'जनकल्याणकारी दिवस' के रूप में मनाया जा रहा है। इस मौके पर उन्होंने लखनऊ पार्टी कार्यालय पर ब्लू बुक 'मेरे संघर्षमय जीवन एवं बसपा मूवमेंट का सफरनामा भाग-15' का विमोचन किया। बसपा कार्यकर्ता प्रदेश के सभी जिलों में बसपा प्रमुख का जन्मदिन मना रहे हैं। इस दिन वे गरीबों और निराश्रितों को मदद भी करेंगे।

लगातार गिरता जा रहा है बसपा का प्रदर्शन 
साल 2014 के लोकसभा चुनाव में बसपा खाता भी नहीं खोल पाई थी। जबकि 2017 के विधानसभा चुनाव में उन्हें 19 सीट पर संतोष करना पड़ा था। इसके अलावा, लोकसभा चुनाव 2019 में बसपा ने सपा के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा और 10 सीटें जीती लेकिन यह गठबंधन चुनाव के बाद ही टूट गया। मायावती इस समय मिशन 2022 की तैयारियों में जुटी हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios