Asianet News HindiAsianet News Hindi

रोज-रोज के टॉर्चर से अच्छी विधवा की जिंदगी...और 1.5 लाख रु. देकर पत्नी ने करवा दिया पति का मर्डर

यूपी के जिले मेरठ में दिनदहाड़े प्रदीप शर्मा की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया। पुलिस हत्या की मास्टरमाइंड पत्नी के जवाब सुनकर दंग रह गई है। महिला का कहना है कि रोज-रोज के टॉर्चर से अच्छा विधवा की जिंदगी है। 

 Meerut Life of good widow daily torture mastermind wife made many shocking revelations know whole matter
Author
First Published Sep 16, 2022, 3:04 PM IST

मेरठ: उत्तर प्रदेश के जिले मेरठ में बुधवार को दिनदहाड़े हुई प्रदीप शर्मा की हत्या में कई बड़े खुलासे हुए है। पुलिस ने 24 घंटे के अंदर ही मुठभेड़ में दोनों शूटरों को दबोच लिया तो वहीं दूसरी ओर पत्नी के द्वारा रची खौफनाक साजिश का भी सनसनीखेज खुलासा हो गया है। पुलिस ने हत्यी की मास्टरमाइंड पत्नी को भी गिरफ्तार कर लिया है। दरअसल शहर के शास्त्रीनगर एल ब्लाक पुलिस चौकी से महज 500 मीटर दूर सेक्टर-13 में बुधवार की सुबह 11:15 बजे बदमाशों ने प्रदीप शर्मा की गोली मारकर हत्या कर दी थी। जिसके बाद मृतक युवक के पिता देवेंद्र शर्मा ने पुत्रवधू नीतू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। 

शराब पीकर युवक पत्नी से आए दिन करता था मारपीट
पुलिस की पूछताछ में नीतू ने शूटर समीर और मनीष का नाम बताया। इतना ही नहीं पुलिस को नीतू ने बताया कि प्रदीप उसका दूसरा पति था, जो रिश्ते में देवर लगता था। पहले पति की मौत के बाद नीतू शर्मा ने अपने देवर प्रदीप से दूसरी शादी रचाई थी। पुलिस पूछताछ में मास्टरमाइंड नीतू शर्मा ने जो खुलासा किया, उसे सुनकर पुलिस भी हैरान रह गई। उसने पुलिस को बताया कि ऐसी जिंदगी से तो विधवा की जिंदगी ही बेहतर है। नीतू ने बताया कि प्रदीप आए दिन शराब पीकर आता था और उसको टॉर्चर करता था। इतना ही नहीं आए दिन उसके साथ मारपीट भी करता था। रोज-रोज के टॉर्चर से अच्छी विधवा की जिंदगी है, प्रदीप की हरकतों से परेशान होकर महिला ने पति की हत्या की साचिश रची और शूटरों को 1.50 लाख रुपये में मर्डर की सुपारी दे डाली।

शूटरों ने वारदात से पहले मृतक के घर किया था नाश्ता
इतना ही नहीं पुलिस की पूछताछ में एक और चौकाने वाला खुलासा हुआ है कि वारदात से पहले नीतू ने रात में एक शूटर को अपने घर में ही सुलाया। सुबह के समय नीतू ने दोनों शूटरों को अपने घर पर नाश्ता कराया और फिर वारदात को अंजाम देने के लिए रवाना कर दिया। उसके बाद शूटरों के हाथ में पिस्टल देकर कहा कि पति किसी भी हाल में बचना नहीं चाहिए और इस काम के लिए नीतू ने तीस हजार रुपए एडवांस भी दिए थे। शूटरों से कहा कि बाकी काम होने के बाद तुरंत मिल जाएंगे। उसके कुछ ही देर बाद शूटरों ने वारदात को अंजाम दे डाला। हालांकि वारदात को अंजाम देकर शूटर आसानी से फरार हो गए। नीतू शर्मा पति के कत्ल में सलाखों के पीछे जा चुकी है।

दोनों के बीच संपत्ति को लेकर चल रहा था विवाद
शहर में दिनदहाड़े हत्या की वारदात से पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया। वहीं मुखबिर की सूचना पर गुरुवार की सुबह पुलिस ने शताब्दीनगर सेक्टर-6 में दोनों आरोपियों की घेराबंदी कर ली। इसके बाद शूटरों ने पुलिस टीम पर गोलियां चला दी तो पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की तो समीर के पैर में गोली लग गई।  गोली लगते ही वह जमीन पर गिर पड़ा। इसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। उसके कुछ समय बाद ही पुलिस ने शूटर मनीष को भी दबोच लिया। ऐसा बताया जा रहा है कि प्रदीप अपनी पत्नी नीतू पर बार-बार अवैध संबंध का आरोप लगाता था लेकिन दोनों के बीच संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा था। मिली जानकारी के अनुसार प्रदीप कहता था कि वह उसकी हत्या करा सकती है। तीन माह पहले भी प्रदीप को गोली लगी थी। इसके बावजूद भी पुलिस ने उसकी एक नहीं सुनी।

शूटरों ने वारदात को लेकर लिए कई अन्य नाम
पुलिस के द्वारा पूछताछ में समीर और मनीष ने खुलासा किया है कि वारदात के समय भावनपुर से लूटी गई बाइक का इस्तेमाल किया गया था। इतना ही नहीं दोनों का दावा है कि हत्या की साजिश में नीतू और उसका दोस्त अनित कुमार एवं ममेरा भाई दीपांशु शामिल है। इस पूरे प्रकरण को लेकर एसपी क्राइम अनित कुमार का कहना है कि नीतू का ममेरा भाई दीपांशु और परिचित अनित कुमार अभी फरार है। आगे कहते है कि पुलिस ने दीपांशु के गांव शबगा, बागपत में भी दबिश दी, लेकिन वो हत्थे नहीं चढ़ा। प्रदीप के हत्यारों को जल्द से जल्द पुलिस हिरासत में लेगी। सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने के प्रयास किए जा रहे हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios