Asianet News HindiAsianet News Hindi

मेरठ में अखाड़ा बना थाना: महिलाओं ने की महिला सिपाही की पिटाई और फाड़ी वर्दी

मेरठ में पारिवारिक विवाद के दौरान पुलिस दो युवकों को थाने लेकर आ गई थी। जिसके बाद पीछे से थाने पहुंची महिलाओं ने हंगामा करते हुए महिला सिपाही पर हमला कर दिया। इस दौरान महिला सिपाही की वर्दी फाड़ दी गई।

Meerut police station became an arena attacked female soldier and tore uniform case registered
Author
First Published Oct 1, 2022, 4:11 PM IST

मेरठ: उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में पारिवारिक विवाद सुलझाना पुलिस को भारी पड़ गया। पारिवारिक विवाद की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस दो युवकों को लेकर थाने आ गई। जिसके बाद पीछे से थाने पहुंची तीन महिलाओं ने हंगामा करना शुरू कर दिया। जब महिला सिपाही ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो महिलाएं उनसे भी भिड़ गईं और महिला पुलिस पर हमला कर उनकी वर्दी फाड़ दी। वहीं शोर-शराबे की आवाज सुनकर मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मियों ने महिला सिपाही को छुड़ाया। 

महिला सिपाही पर हमलाकर फाड़ी वर्दी
बताया जा रहा है कि हमले के दौरान महिला सिपाही का बच्चा भी चोटिल हो गया। पुलिस ने अपनी ओर से आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। टीपीनगर थाना क्षेत्र के चंद्रलोक कालोनी में रहने वाली रेनू की शादीशुदा ननद पूजा भी उसी कालोनी में अलग रहती है। कुछ दिन पहले रेनू ने पति सचिन का मोबाइल अपने भाई अरूण को दे दिया था। वहीं बीते शुक्रवार को जब सचिन ने मोबाइल के बारे में पत्नी से पूछा तो रेनू ने भाई को मोबाइल दिए जाने की जानकारी दी। जिस कारण दंपति में विवाद हो गया। 

दोनों पक्षों में जमकर हुई मारपीट
रेनू को लगा कि उसकी ननद पूजा के कहने पर पति ने मोबाइल के बारे में पूछा है। रेनू ने अपने मायके वालों से इस मामले की शिकायत कर दी। जिसके बाद देर रात रेनू की मां पुष्पा, भाई और बहन प्रीति ने पूजा के घर पहुंचकर हंगामा करना शुरूकर दिया। तभी पूजा ने भाई सचिन को घर बुलाया। सचिन के घर पहुंचने के बाद दोनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई। पारिवारिक विवाद की जानकारी मिलने पर पुलिस अरुण और सचिन को लेकर थाने आ गई। तभी रेनू, पुष्पा और प्रीति भी पीछे-पीछे थाने पहुंच गई।

महिला सिपाही का बच्चा भी हुआ घायल
जिस पर ड्यूटी कर रही सिपाही प्रीति ने महिलाओं से सुबह थाने आने के लिए कहा था। जिसके बाद उन तीनों ने महिला सिपाही पर हमला कर दिया और उसकी वर्दी फाड़ दी। इसके अलावा महिलाओं ने कार्यालय में भी तोड़फोड़ करना शुरूकर दिया। इस दौरान महिला सिपाही का बच्चा भी घायल हो गया। पुलिस ने तीनों महिलाओं और सचिन-अरुण के खिलाफ अपनी तरफ से मुकदमा दर्ज कर लिया है। रात में ही सभी का मेडिकल करवाया गया है। थाना प्रभारी संतशरण सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

मेरठ की महिला ने वनंतरा रिजार्ट में होने वाले काले कारनामों की खोली पोल, कहा- पुलकित करवाता था ऐसा घिनौना काम

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios