Asianet News Hindi

OMG : मोबाइल में विस्फोट, एक युवक की मौत-दूसरा घायल

चार्जिंग में फोन लगाकर बात करना युवकों को पड़ा महंगा। मोबाइल में करंट आने से एक युवक की मौत हो गई दूसरा युवक गंभीर रूप से घायल हो गया।

mobile gets blast in agra, one dead
Author
Agra, First Published Jul 26, 2019, 7:14 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

आगरा: फतेहाबाद क्षेत्र के गांव छतरिया पुरा में चार्ज में मोबाइल लगाकर गाना सुनना दो युवकों को भारी पड़ गया। मोबाइल में करंट आने से एक युवक की मौत हो गई दूसरा युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। ग्राम छतरिया पुरा निवासी धर्मेंद्र  व नीरज, शुक्रवार दोपहर को मोबाइल को चार्ज पर लगाकर कान में लीड लगाकर गाना सुन रहे थे। गाने सुनते समय अचानक से मोबाइल में जोरदार करंट आने से धमाके के साथ मोबाइल फट गया। करंट ने दोनों को अपनी चपेट में ले लिया। मोके पर पहुचें ग्रामीणों ने दोनों घायल युवकों को नर्सिंग होम लेकर आए जहां डॉक्टरों ने नीरज को मृत घोषित कर दिया। घटना से मृतक के परिवार में कोहराम मच गया है।


इन कारणों से फटता है मोबाइल 

1. फोन फटने का सबसे सामान्य कारण हो सकता है, इसकी बैटरी का अधिक गर्म होना। अगर आप फोन को घंटों तक चार्जिंग पर लगाकर छोड़ देते हैं या फिर चार्जिंग पर लगाने के बावजूद फोन पर बातें करते हैं, तो इसकी बैटरी अत्यधिक गर्म होने के साथ अतिरिक्त चार्ज हो रही है। ऐसी में मोबाइल फट सकता है।

2. गलत चार्जर का इस्तेमाल : अगर आप अपने स्मार्टफोन को किसी भी लोकल चार्जर या फिर अन्य चार्जर से चार्ज करते हैं, तो यह आपके फोन और बैटरी के लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है।

3. अगर आप किस सस्ती बैटरी का प्रयोग कर रहे हैं, तो यह जल्दी गर्म होने एवं फूलने जैसी समस्या के कारण ब्लास्ट भी हो सकती है। इसके अलाव चार्जिंग सर्किट और इनपुर पावर में किसी भी प्रकार का फॉल्ट होता है, तब भी बैटरी अधिक गर्म होकर फट सकती है। 

4. अगर आप अपने स्मार्टफोन में स्मार्ट विंडो पर काम करते हैं, तो इससे फोन की बैटरी पर दबाव अधिक पड़ता है। इस स्थिति में इस बारे में विशेष ध्यान देने की जरूरत है। 

5. स्मार्टफोन की बैटरी लिथियम आयन की बनी होने के कारण हल्की होती हैं, उंचाई से गिरने पर इनमें शॉर्ट सर्किट का खतरा बना रहता है। इस परिस्थिति में बैटरी व फोन के फटने की संभावना अधिक होती है।

 

जानिए क्यों होता है विस्फोट

  • चार्जिंग के दौरान मोबाइल फोन के मदरबोर्ड पर दबाव बढ़ जाता है। चार्जिंग के समय इसे पास नहीं रखना चाहिए। 
  • ओरिजनल चार्जर का ही इस्तेमाल करना चाहिए। 
  • डुप्लीकेट चार्जर न लें तो बेहतर। 
  • बाजार में तीन एम्पियर तक के फोन चार्जर हैं। 
  • लोकल चार्जर अधिक करेंट प्रवाह करता है जिससे मोबाइल के फटने का खतरा रहता है।
  • मोबाइल के पानी में जाने के बाद उसे पहले अच्छे से सुखाना चाहिए। कुछ लोग चार्ज में लगा देते हैं। इससे भी मोबाइल के फटने का खतरा रहता है।
  • अक्सर लोग रात में मोबाइल फोन चार्ज में लगाकर सो जाते हैं। ऐसे में बैट्री में मौजूद कैथोड से एनोड पर जरूरत से ज्यादा लिथियम आयन पहुंच जाते हैं जो विस्फोट का कारण बनते हैं। 

 

पहचानें मोबाइल की बिगड़ती सेहत

  • मोबाइल फोन चार्ज करते समय बैट्री यदि गर्म हो रही है तो यह अच्छा संकेत नहीं है। इसको नजरअंदाज करना जीवन के लिए घातक हो सकता है।  
  • स्मार्टफोन की बैट्री फूल गई है तो इसे तुरंत बदल दें वरना आपकी जान को खतरा हो सकता है।
  • स्मार्टफोन को टच करते ही वो गरम होने लगे तो समझ लीजिए कि मोबाइल फोन में दिक्कत आ चुकी है।

 

बरतें यह सतर्कता

  • कभी भी मोबाइल को चार्ज पर लगाकर बात न करें। 
  •  विशेषज्ञ 100 प्रतिशत मोबाइल चार्ज से बचने की सलाह देते हैं।
  •  बैठकर बात करते समय ज्यादातर ईयर फोन का इस्तेमाल करें। 
  • रात में सोते समय अपने से मोबाइल दूर रखें। 
  • बच्चों से मोबाइल को दूर रखें, उनके सामने कम इस्तेमाल करें। 
  • रात में सोते समय डाटा पैक को बंद करके रखें। 
  • गर्मी के दिनों में मोबाइल इस्तेमाल में सावधानी बरतें। 
  • बात करते समय मोबाइल गर्म लगे तो तुरंत फोन काटकर उसे कुछ देर के लिए रख दें।


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios