नोएडा: हत्या के 7 दिन बाद और तेरहवीं से दो दिन पहले की शादी, प्रेमी जोड़े का खौफनाक खेल जानकर पुलिस भी हैरान

| Dec 02 2022, 11:39 AM IST

नोएडा: हत्या के 7 दिन बाद और तेरहवीं से दो दिन पहले की शादी, प्रेमी जोड़े का खौफनाक खेल जानकर पुलिस भी हैरान

सार

यूपी के गौतमबुद्ध नगर में प्रेमी-प्रेमिका ने एक लड़की की हत्या कर उसके चेहरे पर तेजाब डाल दिया। जिससे कि मृतका की पहचान न हो सके। आरोपी ने बताया कि खुद को मरा हुआ साबित करने के लिए उन्होंने इस हत्याकांड को अंजाम दिया था।

नोएडा: उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर में एक लड़की ने आत्महत्या कर ली। इस दौरान मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला। सुसाइड नोट में लिखा था कि वह अपनी मर्जी से आत्महत्या कर रही है। वहीं बीते 13 नवंबर को परिजनों ने बेटी के जले चेहरे वाली लाश देखी। जिसके बाद घरवालों ने पुलिस को जानकारी दिए बिना ही उसका अंतिम संस्कार कर दिया। बता दें कि जिस लड़की का अंतिम संस्कार किया गया असल में वह मरी ही नहीं थी। उस लड़की ने अपने प्रेमी के साथ खुद के मरने का नाटक करते हुए एक कॉल गर्ल की हत्या की और इसके बाद वह मौके से फरार हो गई।

पहचान छिपाने के लिए जलाया चेहरा
वहीं इस मामले का खुलासा तब हुआ जब मरने वाली लड़की के भाई ने बहन के लापता होने की पुलिस में शिकायत की। दादरी के बढ़पुरा गांव निवासी पायल भाटी ने अपने प्रेमी अजय के साथ फिल्मी अंदाज में ग्रेनो वेस्ट निवासी हेमा चौधरी की हत्या कर दी। फिर सबूत मिटाने और घरवालों की नजरों में खुद को मरा हुआ साबित करने के लिए आरोपी पायल ने मृतका को अपने कपड़े पहना दिए। वहीं अपनी पहचान छिपाने के लिए पायल और अजय ने मिलकर मृतका का चेहरा तेजाब से जला दिया। जिससे कि उसकी पहचान न हो सके। वहीं 12 नवंबर को लापता हुई हेमा की गुमशुदी दर्जकर तलाश में जुटी पुलिस ने पायल का नंबर ट्रेस किया। जिसके बाद पुलिस आरोपी अजय के पास तक पहुंची। 

Subscribe to get breaking news alerts

पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार
पुलिस द्वारा सख्ती बरतने पर अजय ने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए कहा कि पायल और अजय शादी करना चाहते थे। आरोपी अजय ने बताया सात दिन बाद 19 नवंबर को पायल ने अजय के साथ आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली। वहीं पायल के घरवालों ने 21 नवंबर को तेरहवीं की रस्म भी अदा कर दी। दरअसल, पायल अपने माता -पिता की मौत का बदला लेना चाहती थी। ग्रामीणों ने पायल के माता-पिता रविंद्र भाटी और राकेश देवी ने एक साथ खुदकुशी कर ली थी। प्राप्त जानकारी के अनुसार, पायल अपने माता-पिता को खुदकुशी करने के लिए विवश करने वाले भाई की पत्नी, साले और शादी कराने वाले बिचौलिए की हत्या की साजिश रचने में जुट गई। बताया गया कि पायल की अजय ठाकुर से दोस्ती फेसबुक से हुई थी।

मृतका के भाई ने पुलिस पर उठाए ये सवाल
आरोपी ने बताया कि पायल ने अजय से कहा कि वह कोई ऐसी लड़की लाए जो उसके कद-काठी की हो। इसके बाद अजय कालगर्ल को लेकर रात में पायल के घर पहुंचा। जहां पर दोनों ने मिलकर इस हत्याकांड को अंजम दिया। आरोपी ने बताया कि जब अजय पायल से मिलने उसके घर जाता था तो वह अपने भाइयों को खाने में नशीला पदार्थ मिला कर दे देती थी। जिससे उसके घरवालों को किसी के आने-जाने वालों की खबर नहीं रहती थी। वहीं मृतका के भाई ने पुलिस और पायल के घरवालों पर सवाल उठाते हुए कहा है कि कोई खुद का गला काटकर चेहरे पर तेजाब कैसे डाल सकता है और वह कैसे मान ले कि जिसे पुलिस उसकी बहन बता रही है वह उसकी बहन ही थी। वहीं पुलिस का कहना है कि हेमा की कॉल डीटेल निकालने पर अजय ठाकुर का नंबर मिला था। जिसके बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

नोएडा में लोगों ने लगाए 'मकान बिकाऊ है' के पोस्टर, जानिए पलायन के पीछे के खौफ की क्या है असल वजह