Asianet News HindiAsianet News Hindi

यूपी की राजनीति में बन सकता है नया गठजोड़, 'रावण' से मिले ओम प्रकाश राजभर

यूपी की राजनीति में नया सियासी गठजोड़ बनने की और अग्रसर है। सोमवार को भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर रावण से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने लखनऊ में मुलाकात की। दोनों नेताओं की मुलाकात से यूपी में नए सियासी समीकरण बनने के कयास लगाए जाने लगे हैं। 2022 के विधानसभा चुनाव को लेकर ये मुलाकत काफी अहम मानी जा रही है

om prakash rajbhar meets chandrashekhar ravan bhim army chief
Author
Lucknow, First Published Mar 2, 2020, 4:04 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ(Uttar Pradesh ). यूपी की राजनीति में नया सियासी गठजोड़ बनने की और अग्रसर है। सोमवार को भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर रावण से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने लखनऊ में मुलाकात की। दोनों नेताओं की मुलाकात से यूपी में नए सियासी समीकरण बनने के कयास लगाए जाने लगे हैं। 2022 के विधानसभा चुनाव को लेकर ये मुलाकत काफी अहम मानी जा रही है। 

राजनैतिक जानकारों की माने तो दोनों की मुलाकात उत्तर प्रदेश में नए समीकरण को जन्म दे सकती है। सूत्रों की माने तो दोनों नेताओं के बीच 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर चर्चा हुई।  सुभासपा की अगुआई में बनी भागीदारी संकल्प मोर्चा में भीम आर्मी शामिल हो सकती है। माना जा रहा है कि 2022 विधानसभा चुनाव के पहले पिछड़े, दलित व अल्पसंख्यकों को एक करने की कोशिश इस मंच द्वारा की जा सकती है। 

बसपा के कई नेता रावण के साथ 
भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर रावण द्वारा नई राजनैतिक पार्टी बनाने की घोषणा के बाद कहीं ने कहीं बहुजन समाज पार्टी में सियासी हलचल शुरू हो गई है। जानकारों की माने तो बसपा के कई नेता चंद्रशेखर के सम्पर्क में हैं। ऐसे में भीम आर्मी द्वारा नए पार्टी के ऐलान के बाद बसपा के कई नेता नई पार्टी में शामिल हो सकते हैं। हांलाकि नई पार्टी का औपचारिक ऐलान होली के बाद 15 मार्च को होगा। 

इन नेताओं ने ली भीम आर्मी की सदस्यता 
पार्टी के गठन के सिलसिले में रविवार को भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर रावण लखनऊ पहुंचे थे। डालीबाग के वीआईपी गेस्ट हाउस में चंद्रशेखर से कई लोगों ने मुलाकात की। इसमें बहुजन समाज पार्टी के कई पूर्व नेता भी शामिल थे। इस दौरान भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर ने कई नेताओं को पार्टी की सदस्यता भी दिलाई। बसपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रामलखन चौरसिया, पूर्व बीएसपी नेता इजहारुल हक और अशोक चौधरी ने भीम आर्मी की सदस्यता ग्रहण की। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios