Asianet News HindiAsianet News Hindi

इस गांव में किसी की मौत होने पर त्रयोदशाह के दिन होता है पौध रोपण


पर्यावरण और पूर्वजों की स्मृतियों को सहेजने की यह पहल गांव वालों को पसंद आई। सभी लोगों ने यह संकल्प ले लिया कि अब गांव में किसी की भी मृत्यु होगी तो उनके परिजन उनकी याद में कम से कम पांच पौधा का रोपण करेंगे।

Planting trees on the day of Trayodshah
Author
Mau, First Published Dec 27, 2019, 9:05 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


मऊ (उत्तर प्रदेश) । कोपागंज विकास खंड के नौसेमर पहिया मौजा में किसी की मौत होने पर त्रयोदशाह के दिन परिजन पौध रोपण करते हैं। इस बात का पूरे गांव के लोगों ने संकल्प लिया है। उनका कहना है कि मृत्यु के बाद भी पूर्वजों की छांव बनी रहेंगी और पर्यावरण संतुलन के साथ उनकी याद बनी रहेगी।

संकल्प के बाद की शुरूआत
बीते दिनों परिवार के बुजुर्ग सदस्‍य शिवबचन का निधन हो गया। गुरुवार को उनकी त्रयोदशाह पर उनकी याद में घर के सदस्यों, रिश्तेदारों एवं ग्रामीणों ने मिलकर पौधरोपण किया। उनका कहना था कि उनके न रहने पर यह पौधा हर पल उनकी याद दिलाएगा और बड़ा होकर उन्हीं की तरह पूरे परिवार को ही नहीं अन्य लोगों को भी छांव देगा। 

किसी की मौत पर लगाएंगे 5 पौधे
पर्यावरण और पूर्वजों की स्मृतियों को सहेजने की यह पहल गांव वालों को पसंद आई। सभी लोगों ने यह संकल्प ले लिया कि अब गांव में किसी की भी मृत्यु होगी तो उनके परिजन उनकी याद में कम से कम पांच पौधा का रोपण करेंगे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios