Asianet News HindiAsianet News Hindi

करोड़ों के जेवरात, कैश, कुंतलों देसी घी...जानिए महंत नरेंद्र गिरी के कमरे से और क्या-क्या मिला

प्रयागराज में एक साल पहले आत्महत्या करने वाले महंत नरेंद्र गिरि के सीलबंद कमरे से भारी मात्रा में कैश, करोड़ों के जेवरात समेत प्रॉपर्टी से जुड़े दस्तावेज बरामद किए गए हैं। कोर्ट के आदेश के बाद तीन सदस्यीय केंद्रीय जांच ब्यूरो की टीम ने गुरुवार को बाघंबरी मठ में महंत की मृत्यु के एक साल बाद उनके कमरे को खोला था।

Prayagraj Millions jewellery cash quintals of desi ghee know what else found from Mahant Narendra Giri room
Author
First Published Sep 16, 2022, 11:27 AM IST

प्रयागराज: साधु संतों की सबसे बड़ी संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के पूर्व अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत के तकरीबन एक साल बाद सीबीआई की टीम गुरुवार को प्रयागराज के बाघम्बरी मठ पहुंची थी। वहां पहुंचने के बाद सीबीआई की टीम पुलिस और मेजिस्ट्रेट की मौजूदगी में मंहत नरेंद्र गिरी के सील किए हुए कमरे को खोला। महंत का कमरा मठ के मेन गेट के पास स्थिति इमारत की पहली मंजिल पर है। दरअसल संदिग्ध मौत के बाद प्रयागराज पुलिस ने मठ के दो कमरों को सील किया था। पहला वो जिसमें महंत नरेंद्र गिरि का शव संदिग्ध हालत में फंदे से लटकता हुआ पाया गया था और दूसरा वो कमरा जिसमें नरेंद्र महंत नरेंद्र गिरि रहते थे।

महंत के कक्ष में मिला तीन करोड़ कैश
सीबीआई की टीम पुलिस और मेजिस्ट्रेट की मौजूदगी में महंत के शयन कक्ष को खोला गया, जिसमें तीन करोड़ रुपये कैश, करोड़ों के जेवरात, कुछ जमीनों के कागजात, 13 कारतूस और करीब 9 कुंतल देसी घी मिला है। इसे महंत बलवीर गिरी को सौंप दिया गया है। हालांकि इस मामले को लेकर कोई कुछ भी बोलने के लिए बिल्कुल तैयार नहीं है। सीबीआई और पुलिस प्रशासन की टीम दोपहर करीब दो बजे मठ पहुंच गई थी। कमरा खोलने के बाद मठ के सभी दरवाजों को अंदर से बंद कर लिया गया था। इस दौरान किसी को भी अंदर आने की इजाजत नहीं दी जा रही थी।

कोर्ट के आदेश पर खुला महंत का कमरा
बाघम्बरी मठ के मौजूदा महंत बलवीर गिरी ने कमरा खोले जाने को लेकर कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी। इसके बाद कोर्ट के आदेश पर सीबीआई की टीम गुरुवार को पुलिस व मजिस्ट्रेट की मौजदगी में कमरे को खोला गया। यहां से मिलने वाला एक-एक सामान का रिकॉर्ड तैयार किया गया है। इसके अलावा वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी भी की गई है। हालांकि जिस कमरे में महंतनरेंद्र गिरी का शव फंदे से लटका पाया गया था, वह कमरा अभी नहीं खुलेगा।

हुक्काबार आने वाली लड़कियों का नंबर युवकों को देकर करते थे ब्लैकमेल, खाकी और नेताओं की सह पर चल रहा था खेल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios