Asianet News HindiAsianet News Hindi

प्रयागराज: लव जिहाद के आरोपी के घर दबिश देने पहुंची पुलिस को लटका मिला ताला, लड़की ने लगाया था गंभीर आरोप

यूपी के प्रयागराज में लव जिहाद का मामला सामने पर आरोपियों की तलाश करने गई पुलिस को उनके घर पर ताला लटका मिला है। लड़की का आरोप है कि उसके पति और देवरों ने उसके साथ दुष्कर्म जैसी घिनौनी घटना भी अंजाम दिया था। 

Prayagraj police arrived to raid house of accused of love jihad found lock hanging girl had serious allegations
Author
Prayagraj, First Published Aug 16, 2022, 11:12 AM IST

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में लव जिहाद का मामला सामने आया है। आरोपी ने नाम बदलकर पहले पीड़िता से दोस्ती की और फिर शादी की। शादी के बाद उसे पता चला कि उसका पति हिंदू नहीं मुसलमान है। जब पीड़िता ने इसका विरोध किया तो आरोपी और उसका परिवार धर्म परिवर्तन का दबाव बनाने लगे। मामले की जानकारी होने पर प्रयागराज पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है। लेकिन आरोपी और उसका परिवार घर छोड़कर फरार हो चुके हैं। उसने अपना फोन भी स्विच-ऑफ कर लिया है, जिससे कि पुलिस उसकी लोकेशन न ट्रैक कर सके।

बलिया से नर्सिंग करने आई थी पीड़िता
यह मामला कर्नलगंज थाना क्षेत्र के मम्फोर्डगंज इलाके का है। यूपी के बलिया जिले से युवती प्रयागराज नर्सिंग का कोर्स करने आई थी। यहीं पर सोशल मीडिया क्लब हाउस के जरिए उसकी दोस्ती मम्फोर्डगंज निवासी सोनू उर्फ अनुज प्रताप सिंह के साथ हुई। धीरे-धीरे यह दोस्ती प्यार में बदल गई। युवती ने बताया कि एक बार जब वह बीमार पड़ी थी तो सोनू ने उसकी मदद भी की थी। जिसके बाद वह सोनू के साथ काशी विश्वनाथ मंदिर दर्शन के लिए भी गई थी। सोनू उर्फ अनुज प्रताप सिंह ने बताया था कि वह पेशे से अधिवक्ता है। साथ ही पुराने मुकदमे की पैरवी को लेकर भी उससे बात की थी।

धर्म छुपाकर हिंदू लड़की से की शादी
पीड़िता के अनुसार, सोनू ने पीड़िता को रामबाग स्थित होटल बुलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया था। जिसके बाद पीड़िता तीन माह की गर्भवती हो गई थी। सोनू ने उसे दवा देकर गर्भपात करवा दिया था। उसके कुछ दिन बाद सोनू ने पीड़िता से शादी की इच्छा जाहिर की और दोनों ने रजिस्ट्रार दफ्तर जाकर कोर्ट मैरिज कर लिया। शादी के कुछ दिन बाद आरोपी उसे लेकर अपने घर गया। जहां पर युवती को पता चला कि वह मुसलमान है। उसका असली नाम सोनू नहीं बल्कि अनुज उर्फ मोहम्मद आलम पुत्र महमूद है।

धर्म परिवर्तन का बना रहे थे दबाव
सच्चाई का पता चलने पर जब युवती ने उसका विरोध किया तो आरोपी और उसके घरवाले मिलकर उस पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाने लगे। विरोध करने पर लड़की को घर में कैदकर मारने-पीटने लगे। पीड़िता ने बताया कि आरोपी के दोनों भाई जिनका नाम मोहम्मद असलम और नूर आलम उन्होंने भी उसके साथ दुष्कर्म किया है। वहीं इस पूरे मामले पर कर्नलगंज इंस्पेक्टर राम मोहन राय का कहना है कि पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए उनके घर पर दबिश दी थी, लेकिन आरोपी घर पर नहीं मिले। आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर कार्यवाही की जाएगी।

लव जिहाद का शिकार हुई प्रयागराज की किशोरी का नहीं मिल रहा कोई सुराग, हिंदू संगठन ने पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios