Asianet News HindiAsianet News Hindi

रामपुर: आजम खान और अब्दुल्ला ने वापस लौटाए सरकारी गनर, कहा- नहीं चाहिए आपकी सुरक्षा 

समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने अपनी सुरक्षा में तैनात तीनों गनर को वापस भेज दिया है। आजम खान का कहना है कि उन्हें सरकारी सुरक्षा की जरूरत नहीं है। वहीं आजम के बेटे अब्दुल्ला अपनी सुरक्षा में तैनात एक गनर को बिना जानकारी दिए गायब हो गए।

Rampur Azam Khan and Abdullah returned government gunners said do not want your security
Author
First Published Sep 26, 2022, 10:57 AM IST

रामपुर: समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और रामपुर से विधायक आजम खान ने अपनी सुरक्षा में तैनात सरकारी गनर को वापस भेज दिया है। उनकी सुरक्षा के लिए तीन गनर तैनात थे। लेकिन आजम खान द्वारा गनर को वापस भजने के बाद ऐसा लगा रहा है जैसे उन्हें योगी सरकार की पुलिस पर भरोसा नहीं है। आजम खान के अनुसार, उन्हें सरकारी सुरक्षा की आवश्यकता नहीं है। वहीं आजम खान के बेटे अब्दुला की सुरक्षा में भी एक गनर तैनात था। सरकारी सुरक्षा वापस किए जाने के बाद चारो गनर रामपुर लौट आए हैं। 

आजम खान ने वापस की सरकारी सुरक्षा
एडिशनल एसपी संसार सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि विधायक आजम खान को वाई श्रेणी की सुरक्षा दी गई थी। जिसके तहत उन्हें तीन गनर मुहैया करवाए गए थे। आजम खान द्वारा उन्हें वापस लौटाए जाने के बाद तीनों गनर रामपुर पुलिस लाइन चले गए। जहां पर उन्होंने बताया कि बीते 23 सितंबर को वह लोग दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में तैनात थे। जहां पर उनसे कहा गया कि वह वापस चले जाएं और उन्हें सुरक्षा की आवश्यकता नहीं है। जिसके बाद तीनों गनर वापस आ गए।

अब्दुल्ला की सुरक्षा में तैनात गनर भी हुआ वापस
एसपी संसार सिंह के अनुसार, आजम खान जब भी सुरक्षा की मांग करेंगे तो उन्हें गनर मुहैया करवा दिए जाएंगे। इसी के साथ ही उन्होंने बताया कि विधायक अब्दुल्ला आजम की सुरक्षा में जो गनर तैनात था वह भी वापस आ गया है। बताया जा रहा है कि उसे यह नहीं पता है कि अब्दुल्ला और उनका ड्राइवर कहां है। पिछले दिनों आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी में पुलिस ने सर्च ऑपरेशन चलाया था। जहां पर सरकारी मशीन, मदरसा आलिया की बेशकीमती किताबें और फर्नीचर आदि बरामद किया गया था। वहीं अब आजम खान और अब्दुल्ला द्वारा गनर को वापस किए जाने पर चर्चाओं का बाजार भी गर्म है।

रामपुर: किशोरी के पेट दर्द ने खोली सामूहिक दुष्कर्म की पोल, पंचायत ने सुनाया एक और दर्दनाक फैसला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios