रामपुर (Uttar Pradesh) । सिर पर सेहरा और गले में नोटों की माला पहने सजे-धजे दूल्हे राजा शादी करने ससुराल जा रहे थे। लेकिन, कोरोना काल में वे चेहरे पर मास्क लगाना भूल गए। इसी दौरान रास्ते में चेकिंग करने निकले डीएम आंजनेय कुमार सिंह की नजर पड़ी तो मातहतों से दूल्हे की गाड़ी रास्ते में ही रोकवा दिया। इसके बाद दूल्हे को उतारकर 200 रुपए का चालान काटा। साथ ही चेतावनी देते हुए ससुराल जाने की इजाज दी। यह मामला आज रामपुर कोतवाली के सिविल लाइन क्षेत्र का है।

यह है पूरा मामला
डीएम आंजनेय कुमार सिंह ने अपनी पूरी टीम के साथ शहर में घूमकर चेकिंग कर रहे थे। चेकिंग के दौरान जौहर अली मार्ग से होकर गुजर रहे थे, तभी वहां से गुजर रहे कार सवार दूल्हे को बिना मास्क देखकर उन्होंने कार रुकवाई। दूल्हे को कार से उतारकर उसका 200 रुपये का चालान काट दिया।

डीएम ने कही ये बातें
डीएम ने बताया कि शादी के लिए किसी को इजाजत मिलती है तो उसमें साफ तौर पर लिखा होगा कि इजाजत किन शर्तों के साथ मिली है। दुल्हन को लेने जा रहे दूल्हे ने मास्क नहीं पहना था। ऐसे में उसका चालान काट दिया गया। इस समय बिना प्रशासन की इजाजत के कोई शादी नहीं कर सकता है।