Asianet News HindiAsianet News Hindi

सहारनपुर: टीचर और छात्रा का फंदे से लटका मिला शव, नाबालिग स्टूडेंट के साथ 17 दिन पहले घर से फरार हुआ था शिक्षक

यूपी के जिले सहारनपुर के बिहारीगढ़ के जंगल में दो लाशें फंदे पर लटकी मिलीं। दोनों शव शिक्षक और छात्रा के हैं। टीचर अपनी नाबालिग स्टूडेंट को लेकर 17 दिन पहले घर छोड़कर भाग गया था। छात्रा के घरवालों की तहरीर पर पुलिस तलाश कर रही थी। 

Saharanpur  Teacher student body found hanging teacher had escaped from home with minor student 17 days ago
Author
First Published Sep 21, 2022, 3:21 PM IST

सहारनपुर: उत्तर प्रदेश के जिले सहारनपुर में जंगल में दो शव फंदे पर लटकी मिली है। दोनों के बीच संबंध टीचर और छात्रा का है। वह अपनी नाबालिग स्टूडेंट को लेकर 17 दिन पहले घह छोड़कर भाग गया था। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं पुलिस का कहना है कि परिस्थितियां सुसाइड की तरफ इशारा कर रही है लेकिन यह भी हो सकता है कि दोनों की हत्या करने के बाद शव को फंदे पर लटका दिया गया हो। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति साफ हो सकेगी। पुलिस ने फॉरेंसिक की मदद भी ली है।

पुलिस और एसओजी टीम छात्रा की कर रही थी तलाश 
जानकारी के अनुसार दोनों की लाश मोहंड के जंगल में मिली है। शहर के रसूलपुर खेड़ी में 45 साल का वीरेंद्र सिडकी के एक इंटर कॉलेज में टीचर था। इसी स्कूल में 11वीं में 17 साल की स्टूडेंट से उसका अफेयर हो गया। बीती तीन सितंबर की रात को अचानक दोनों एक साथ लापता हो गए। उसके बाद छात्रा के पिता ने टीचर के खिलाफ थाना नागल में अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस दोनों की तलाश कर रही थी। इतना ही नहीं पुलिस ने एसओजी की टीम को भी लगाया था लेकिन वह बरामद नहीं हुए थे।

सुसाइड नोट समेत अन्य सामान शव के पास नहीं हुआ बरामद
रात में जंगल के इसी पेड़ से दोनों की लाश लटकी हुई थी। मंगलवार की देर रात नौ बजे पुलिस को मोहंड के जंगल में दो शव पेड़ से लटके होने की सूचना मिली। एसएसपी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का मुआयना किया। इसके बाद पुलिस को कुछ ही दूर पर एक बाइक भी मिली जो मृतक टीचर की बताई जा रही है। इसी से पुलिस को दोनों की पहचान हुई। इसकी सूचना दोनों के घरवालों को दी गई और मौके पर बुलाया गया। शव के पास पुलिस को कोई भी सुसाइड नोट के साथ कोई अन्य सामान नहीं मिला है।

छात्रा के परिजन ने टीचर के घर में जाकर किया था हंगामा
इस मामले में पुलिस की जांच में सामने यह भी आया है कि चार महीने पहले भी दोनों गायब हुए थे। इस दौरान पुलिस ने दोनों को 24 घंटे के अंदर तलाश कर लिया था। छात्रा का बयान भी दर्ज किया था जिसमें उसने अपनी मर्जी से जाने की बात कही थी और अपहरण से मना किया था। मृतक टीचर दो बच्चों का पिता है। छात्रा के साथ प्रेम प्रसंग को लेकर दोनों के घरवाले काफी परेशान थे। कई बार तो टीचर के घर जाकर छात्रा के परिजन ने जमकर हंगामा भी किया लेकिन इसका कोई असर उसपर नहीं पड़ा।

पुलिस छात्रा के घरवालों की तहरीर के आधार पर कर रही थी जांच
इस मामले में को लेकर एसएसपी विपिन ताडा का कहना है कि नाबालिग और टीचर दोनों 3 सितंबर से गायब हो गए थे। उसके बाद छात्रा के घरवालों ने युवक के खिलाफ छात्रा का अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था। तहरीर के आधार पर पुलिस तलाश कर रही थी लेकिन इस तरह से दोनों के शव मिलने से शुरुआती जांच में हत्या का मामला लग रहा है। उन्होंने आगे कहा कि शवों के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। इस वजह से ऑनर किलिंग के एंगल से भी जांच की जा रही है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios