Asianet News HindiAsianet News Hindi

मां को पीट रहे पिता को बेटे ने दी दर्दनाक मौत, फिर सुनाई क्रूरता की दर्दनाक कहानी

बेटे ने कहा पापा अक्सर शराब पीकर घर आते थे> मां से गाली गलौज व मारपीट करते थे। विरोध पर उसे और भाई-बहन को भी पीटते थे।

Seeing the beating of the mother, the son killed his father, then heard the story of cruelty
Author
Kanpur, First Published Dec 23, 2019, 5:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कानपुर (उत्तर प्रदेश) । मां की पिटाई करता देख बेटे ने पिता के सिर पर गड़ासा मारकर मौत के घाट उतार दिया। गड़ासा मारने के बाद बेटे को अपनी गलती का एहसास हुआ। वह आनन-फानन लहूलुहान पिता को लेकर अस्पताल पहुंचा, लेकिन डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी। आरोपी का कहना था कि वह अपने पिता की निर्दयता से परेशान था।

मारने के बाद हुआ गलती का एहसास
आरोपी आकाश के मुताबिक रविवार शाम मां (रीता) को नानी के बीमार होने का पता लगा तो वह शाम को शुक्लागंज जा रही थीं। इस बीच पिता राजेश वाल्मीकि नशे में धुत होकर पहुंचे और गालीगलौज करते हुए मां से बेरहमी से मारपीट करने लगे। उसने विरोध किया तो डंडा उठाकर पीटने लगे। तभी पास ही रखा गड़ासा उठाकर उसने पिता के सिर पर वार कर दिया। इससे राजेश लहूलुहान होकर गिर पड़े। गंभीर हालत में पिता को लोडर में लेकर बेटा परिवारवालों के साथ अस्पताल जाने लगा, लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गई।

शराब पीकर बच्चों को मारता था पिता
रविदासपुरम इलाके के मायापुरम कच्ची बस्ती में रहने वाले लोडर चलाता था। परिवार में पत्नी रीता, बेटा आकाश, रजत, सलोनी और दीपाली हैं। बेटे आकाश ने बताया कि पापा अक्सर शराब पीकर घर आते थे और मां से गाली गलौज व मारपीट करते थे। विरोध पर उसे और भाई-बहन को भी पीटते थे।

तीन माह पहले पत्नी की किया था पिटाई
तीन माह पहले भी राजेश ने अपनी पत्नी की पिटाई किया था। गुस्से में आकर आकाश ने ईंट मार दिया था। पिता ने थाने में शिकायत की थी, लेकिन बाद में उन्होंने ही कार्रवाई करने से मना कर दिया था।

(प्रतीकात्मक फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios