Asianet News HindiAsianet News Hindi

मैनपुरी में 12 बीघा जमीन के लिए रिश्ते को कत्ल, दामाद ने इस तरह से ससुर को उतारा मौत के घाट, सभी हैरान 

यूपी के मैनपुरी जनपद में एक दामाद ने अपने ही ससुर को मौत के घाट उतार दिया। दामाद ने इस वारदात को 12 बीघा जमीन के लालच में अंजाम दिया। मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 

Son in law killed father in law for 12 bighas of land in Mainpuri
Author
First Published Sep 11, 2022, 5:18 PM IST

मैनपुरी: जनपद में एक किसान की हत्या किए जाने का मामला सामने आया। वारदात को उस दौरान अंजाम दिया गया जब वह खेत में चारा डालकर वापस आ रहा था। इस मामले में मृतक किसान की पुत्री ने अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज करवाया। हालांकि पुलिस की पड़ताल में जो तथ्य सामने आए वह चौंकाने वाले थे। पड़ताल में पता लगा कि गांव रामगढ़ी के रहने वाले रामप्रकाश की हत्या की वजह उसकी 12 बीघा जमीन बन गई। आरोपी कोई और नहीं बल्कि उसका खुद का दामाद था। उसने ही जायदाद के लालत में इस वारदात को अंजाम दिया। 

अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर शुरू हुई छानबीन 
आपको बता दें कि कोतवाली क्षेत्र के गांव रामगढ़ी के रहने वाले रामप्रकाश शाक्य गुरुवार की सुबह हमेशा की ही तरह से देवामई स्थित खेत पर लगे ट्यूबवेल पर गए हुए थे। वहां से देर शाम जब वह चारा लेने के बाद वापस आने लगे तभी गांव देवामई व खीजा के बीच में किसी ने गोली मारकर उनकी हत्या कर दी। घटना के बाद वहां से गुजर रहे लोगों ने उनका शव पड़े हुए देखा। मामले को लेकर आनन-फानन में परिजनों को सूचना दी गई। सूचना मिलने के बाद स्थानीय थाना पुलिस भी मौके पर पहुंची। मामले में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया गया औऱ विवेचना शुरू हुई। हत्या के खुलासे के लिए स्वॉट प्रभारी विक्रम सिंह और अन्य फोर्स जुट गई। महज कुछ ही घंटों के बाद पूरा मामला आइने की तरह से साफ हो गया। 

जायदाद के लालच में की गई हत्या
पुलिस ने जानकारी दी कि रामप्रकाश की हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उसके अलीगंज निवासी उसके दामाद रजनेश ने की है। यह हत्या जायदाद के लालच में की गई। एसपी कमलेश दीक्षित ने बताया कि मृतक के तीन बेटियां हैं और शादीशुदा पुत्री के पति ने ही इस वारदात को अंजाम दिया है। इस खुलासे के बाद परिजन भी हैरान हैं। उनका कहना है कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि दामाद जमीन के लालच में इतनी बड़ी घटना को अंजाम दे देगा। 

मथुरा: राधा रानी मंदिर में बरकरार रही 5000 साल पुरानी परंपरा, महिला सेवादार को नहीं मिला पूजा का अधिकार

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios