सोनभद्र: भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा कक्षा एक का छात्र, सरकारी स्कूल का गेट गिरने से 7 साल के मासूम की मौत

| Dec 05 2022, 09:59 AM IST

सोनभद्र: भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा कक्षा एक का छात्र, सरकारी स्कूल का गेट गिरने से 7 साल के मासूम की मौत

सार

यूपी के सोनभद्र के दुध्धी के पकडेवा प्राथमिक विद्यालय का पिलर सहित गेट गिरने से 7 साल के छात्र की मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि स्कूल के कायाकल्प के नाम पर विद्यालय में कोई काम नहीं किया गया है। जिसके चलते यह हादसा हो गया।

सोनभद्र: उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में दुध्धी के पकडेवा प्राथमिक विद्यालय का पिलर सहित गेट गिरने से हादसा हो गया है। स्कूल पढ़ने गए एक 7 साल के छात्र की गेट गिरने से बच्चे की मौत हो गई। बता दें कि गेट गिरने पर बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया था। जिसके बाद उसे आनन-फानन में इलाज के लिए सीएचसी में भर्ती कराया गया। जहां पर छात्र की हालत गंभीर देखते हुए पुलिस ने उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। वहीं ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक छात्र के घरवालों और स्थानीय लोगों का आरोप है कि विद्यालय के जर्जर हालत को देखते हुए कायाकल्प के तहत बाउंड्री व गेट का निर्माण करवाया गया था। 

गेट पर झूला झूल रहा था छात्र
कायाकल्प होने के बाद भी विद्यालय का भवन पूरी तरह से जर्जर है। ग्रामीणों ने बताया कि चहारदीवारी भी हाथों से हिलाने पर हिल रही है। ऐसे में स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों की जान को हमेशा खतरा बना रहता है। परिजनों का आरोप है कि विद्यालय में कायाकल्प के नाम पर कोई काम नहीं किया गया। जिसके चलते यह हादसा हो गया है। 7 वर्षीय श्लोक पटेल कक्षा 1 का छात्र था। हर रोज की तरह घटना वाले दिन भी वह स्कूल पढ़ने के लिए गया था। वहीं दोपहर को लंच के दौरान वह स्कूल के गेट पर चढ़कर झूल रहा था। तभी अचानक से स्कूल का गेट पिलर सहित उसके ऊपर गिर गया।

Subscribe to get breaking news alerts

मृतक छात्र के परिजनों ने किया जमकर बवाल
बता दें कि बीएचयू प्रशासन ने बच्चे का पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों को सौंप दिया है। जिसके बाद उसके घरवालों और ग्रामीणों ने घंटो जमकर बवाल किया। परिजनों का आरोप है कि विद्यालय के शिक्षक शैक्षिक कार्य के बीच ही स्कूल छोड़कर कहीं चले गए थे। शिक्षकों के स्कूल में न होने के कारण ये हादसा हो गया। वहीं मृतक छात्र के पिता सुरेंद्र पटेल ने आरोप लगाते हुए कहा कि यह हादसा प्रधान व सचिव की लापरवाही से हुआ है। छात्र के पिता ने दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने के साथ ही मुआवजे की मांग की है। वहीं डालापीपर प्रधान प्रतिनिधि अंतु ने मामले पर सफाई देते हुए कहा कि सचिव द्वारा कहे जाने के बाद भी सप्लायर का भुगतान नहीं करने से सप्लायर सीमेंट नहीं दे रहा। जिस कारण स्कूल के चारदीवारी की मरम्मत नहीं हो सकी।

सोनभद्र: मामूली सी बात पर दबंगों ने बुजुर्ग को पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट, पुलिस आरोपियों की कर रही तलाश