Asianet News Hindi

रास्ते में पड़ा था खून लगा लव लेटर , पुलिस ने की छानबीन तो सामने आया चौंकाने वाला सच

मुज्जफ्फरनगर में बीए के छात्र की हत्या कर लाश जंगल में एक कुँए में फेंक दी गई । 

student of ba murdered in muzaffarnagar
Author
Muzaffarnagar, First Published Sep 15, 2019, 5:55 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुजफ्फरनगर (उत्तर प्रदेश ). मुजफ्फरनगर जनपद के गांव करवाड़ा में शनिवार को ग्रामीणों ने काफी मात्रा में खून देखा तो वह किसी घटना की  आशंका से सिहर उठे। इसकी सूचना पुलिस को दी गई पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कि तो खून की बूँदें काफी दूर तक गई थी। पुलिस ने जब गहन जांच की तो कुछ दूर ही एक सूखे कुँए में लाश देखकर सभी स्तब्ध रह गए। शव को कुँए से निकलवाया गया ,शव की पहचान एक दिन पूर्व से ही संदिग्ध परिस्थियों में घर से गायब बीए के छात्र के रूप में हुई। वह राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से भी जुड़ा था। 

मुजफ्फरनगर के तितावी थाना क्षेत्र के गांव करवाड़ा निवासी रामकुमार का पुत्र पंकज बीए प्रथम वर्ष का छात्र था। वह बघरा के स्वामी कल्याणदेव डिग्री कॉलेज में पढता था। शुक्रवार को वह संदिग्ध परिस्थियों में घर से गायब हो गया। घर वालों ने उसकी काफी खोजबीन की। जब उसकी कोइ शिनाख्त नहीं मिली तो परिजनों ने पुलिस को इसकी सूचना दी। 

मोबाइल पर फोन आने के बाद बाइक से उतर गया था पंकज 
परजिनों की माने तो शुक्रवार शाम पंकज बघरा जाने की बात कहकर घर से निकला था। गांव के बाहर उसने करवाड़ा के रहने वाले सोनू से बाइक पर लिफ्ट ली। इस बीच रास्ते में ही उसके मोबाइल पर एक कॉल आई और वह बाइक से उतर गया। इसके बाद वह न तो बघरा पहुंचा और न ही घर लौटा। रात में ही परिजनों ने तितावी थाने पर उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई। 

घटना स्थल पर पड़ा था फटा हुआ लव लेटर
शनिवार सुबह पुलिस, परिजन और ग्रामीण उस जगह पहुंचे, जहां पंकज सोनू की बाइक से उतरा था। वहां एक फटा हुआ प्रेम पत्र मिला, जिस पर खून लगा था। जिसकी राइटिंग पंकज के भाई अमित ने पहचान ली। वहीं पर काफी खून पड़ा मिला, जिसके बाद जंगल में कांबिंग शुरू कर दी गई। तलाशने पर वहां से करीब आधा किलोमीटर दूर गांव हरसौली के जंगल में स्थित भुआपुर के कुएं में पंकज की लहूलुहान लाश पड़ी मिली। 

पिता- पुत्र ने मिलकर उतारा था पंकज को मौत घाट 
RSS कार्यकर्ता की हत्या के मामले में पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है। एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया कि मौके से मिले लवलेटर के आधार पर जब पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू की तो पुलिस के हाँथ महत्वपूर्ण सुराग लगे। उसके आधार पर पुलिस ने मृतक के गांव के ही मोनू व उसके पिता कंवरपाल को गिरफ्तार कर लिया। पूंछताछ में कंवरपाल ने बताया कि पंकज आए दिन उसकी बेटी से छेड़छाड़ करता था , उसने कई बार पंकज को मना भी किया लेकिन नहीं माना। जिसके बाद उसने अपने बेटे मोनू के साथ मिलकर पंकज को धोखे से फोन कर बुलाया और उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने दोनों की निशानदेही पर खून से सना शर्ट और हत्या में प्रयुक्त पत्थर व धारदार हथियार बरामद कर लिया। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios