बरेली (Uttar Pradesh). यूपी के बरेली में टिकटॉक वीडियो बनाने के चक्कर में एक इंटर के छात्र की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक, छात्र लाइसेंसी पिस्टल को कनपटी पर सटाकर टिकटॉक वीडियो बना रहा था। परिजनों ने शव का पोस्टमॉर्टम कराने से मना कर दिया है। 

क्या है पूरा मामला
मामला हाफिजगंज थाना क्षेत्र का है। यहां के मुड़िया भीकमपुर के रहने वाले सैन्यकर्मी वीरेंद्र कुमार वर्तमान में रुड़की में तैनात है। गांव में पत्नी गायत्री देवी और दो बच्चे केशव और प्रियांशी रहते हैं। 18 साल का केशव इंटर का छात्र था। मां गायत्री ने कहा, सुबह बेटे ने वीडियो बनाने की बात कहकर मुझसे पति की लाइसेंसी पिस्टल मांगी थी। कुछ देर बाद कमरे से गोली चलने की आवाज आई। मैंने जाकर देखा तो बेटा जमीन पर लहुलुहान हालत में पड़ा तड़प रहा था। गोली उसकी कनपटी पर लगी थी। आनन फानन में उसे प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। काश मैं बेटे की मैंने बेटे की वो बात न मानी होती तो आज वो जिंदा होता। 

फोटो और वीडियो बनाने का शौकीन था छात्र
गांव में चर्चा थी कि छात्र को अपनी फेसबुक और व्हाट्सएप अकाउंट पर प्रोफाइल पिक्चर बदलने और वीडियो बनाने का शौक था। पुलिस ने बताया, परिवार किसी तरह की कार्रवाई को तैयार नहीं है। मृतक के पिता के आने के बाद उसका अंतिम संस्कार किया जाएगा।