Asianet News HindiAsianet News Hindi

शिक्षा के साथ खिलवाड़ किताब छीन कर मासूम को पकड़ा दिया फावड़ा

छोटे बच्चों से स्कूल की ग्राउंड का मार्ग बनवाने के लिए मजदूरी कराई जा रही है वीडियो में बच्‍चे फावड़ा और तसला लेकर मजदूरी करते नजर आ रहे है
 

teacher ask students to work on school field
Author
Uttar Pradesh, First Published Nov 24, 2019, 6:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हमीरपुर: उत्‍तर प्रदेश के हमीरपुर  जिले के सरकारी स्कूलों  में शिक्षा के साथ खिलवाड़ करने का लगातार तीसरा मामला देखने को मिल रहा है। विगत दिनों स्कूली बच्चों  से मिड-डे मील की सामग्री ढोने का वीडियो  सामने आया था। यह मामला अभी थमा भी नहीं था, इसी बीच एक दूसरा वीडियो वायरल हुआ, जिसमें स्कूली बच्चों से स्कूल प्रांगण से साफ सफाई कराई जा रही थी। अब, एक नया वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें स्कूली बच्चों के वजनी तसले देकर मजदूरी कराई जा रही है। वीडियो में बच्चो के हाथों में किताबों की जगह फावड़ा और तसला नजर आ रहा है।

वीडियो हो रहा है वायरल

यह मामला है हमीरपुर जिले के कुरारा ब्लाक के रिठारी गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय का है, जहां पर छोटे-छोटे बच्चों से स्कूल की ग्राउंड का मार्ग बनवाने के लिए मजदूरी कराई जा रही है। वीडियो में बच्‍चे फावड़ा और तसला लेकर मजदूरी करते नजर आ रहे है। उल्‍लेखनीय है कि जब बच्चे सुबह अपने घर से निकल कर स्कूल पढ़ने के लिए जाते, लेकिन उनके मां-बाप को यह पता नहीं है कि उनके बच्चों के साथ स्कूल में क्या करवा जाता है।

यहां, यह सोचने वाली बात होगी कि नौनिहाल बच्चों के भविष्य के साथ इतना बड़ा खिलवाड़ क्यों किया जा रहा है। उनके हाथों में किताबों की जगह फावड़ा और तसला देखर मजदूरी करवाई जा रही है. इस मामले में शिक्षा विभाग के बीएसए सतीश कुमार ने जांच के आदेश जारी किए है। उनका कहना है कि एबीएसए से जांच करवाकर कार्रवाही की जाएगी. यह पहला मामला नहीं है, जब मजदूरी का वीडियो वायरल हुआ हो। विगत 4 दिनों में यह तीसरा मामला है, जिमसें स्‍कूली बच्चों से मजदूरी कराई जा रही है।

किसी तरह की कार्रवाई नहीं

तीनों वीडियो के सामने आने के बाद शिक्षा विभाग के अधिकारी सिर्फ कार्रवाई करने की बात कह कर खामोश हो गए हैं। अब तक तीनों ही मामलों में किसी तरह की कार्रवाई नहीं की गई है। उल्‍लेखनीय है कि बच्‍चों से मजूदरी का पहला मामला 21 नवंबर का था, जिसमे मौदहा तहसील के पिपरौंदा गांव के प्राथमिक विद्यालय के शिक्षकों ने बच्चों से मिड डे मील की सामग्री धुलवाया था। दूसरा मामला 23 नवंबर का है, जिसमें सरीला तहसील गांव के प्राइमरी स्कूल में बच्चों से फावड़ा औऱ हसियां से मजदूरी कराने का वीडियो वायरल हुआ था। आज यह कुरारा के रिठारी के प्राइमरी स्कूल का वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें बच्चो को तसला और फावड़ा देकर मजदूरी कराई जा रही है।

(प्रतिकात्मक फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios