Asianet News HindiAsianet News Hindi

7 फेरे तक तो सब ठीक था...विदाई के समय दूल्हे से मिली नजर और बौखलाई दुल्हन ने तोड़ दिया रिश्ता


सिपाह इब्राहिमाबाद निवासी सुनील मद्धेशिया की पुत्री का बलिया जनपद के सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के रुद्रवार निवासी श्रीराम के पुत्र के साथ लगभग एक वर्ष पूर्व विवाह तय हुआ था। बीते 26 नवंबर को तिलक की रस्म हुई। शनिवार की शाम को बारात गाजे-बाजे के साथ सिपाह इब्राहिमाबाद आई। विवाह भी पूरे हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुआ।

The bride and groom got sighted and then broke up due to this relationship
Author
Mau, First Published Dec 2, 2019, 4:12 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मऊ (उत्तर प्रदेश) । शादी में साथ-साथ सात जन्मों तक साथ जीने-मरने की कसमें खाने वाले चंद घंटों में ही अलग हो गए। यह अलगवा दुल्हे-दुल्हन की नजर से नजर मिलने के बाद हुआ। जी हां यह सच्ची घटना मऊ में मधुबन थाना क्षेत्र के सिपाह इब्राहिमाबाद में रविवार को हुई। जहां विदाई की वक्त दुल्हन की नजर दूल्हे की आंख पर पड़ गई,जिसपर उसने यह कहते हुए रिश्ता तोड़ लिया की दूल्हे की आंख खराब है और वह ठीक से देख नहीं पाता है।

ऐसे हुई दूल्हन को जानकारी
सिपाह इब्राहिमाबाद निवासी सुनील मद्धेशिया की पुत्री का बलिया जनपद के सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के रुद्रवार निवासी श्रीराम के पुत्र के साथ लगभग एक वर्ष पूर्व विवाह तय हुआ था। बीते 26 नवंबर को तिलक की रस्म हुई। तय तिथि पर बारात गाजे-बाजे के साथ सिपाह इब्राहिमाबाद आई। विवाह भी पूरे हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुआ। भोर में विदाई का वक्त हुआ, उसी समय किसी ने दुल्हन को दूल्हे की आंख में खराबी और उसको कम दिखाई देने की शिकायत कर दिया। इस बात की जानकारी होते ही दुल्हन भड़क गई और उसने विदा होने से इंकार कर दिया।

थाने में हुई पंचायत
दोनों पक्ष में विवाद शुरू हो गया। इस बीच किसी ने दूल्हे को बंधक बनाए जाने की सूचना पुलिस को दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस दोनों पक्षों को लेकर थाने आई। वहां संभ्रांत लोगों की मौजूदगी में दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के द्वारा किए गए खर्च का लेन-देन कर विवाह का पटाक्षेप करने पर सहमत हो गए। तब जाकर मामला शांत हुआ।

(प्रतीकात्मक फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios