Asianet News Hindi

सारनाथ में रुक-रुक कर कांप रही धरती, जताई जा रही ये आशंका, डर रहे हैं लोग

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक संभव है इस खास क्षेत्र में धरती के नीचे गैस बन रही हो और उसे निकलने का स्थान न मिल रहा हो। कुछ समय पहले बेंगलुरु के एक गांव में भी धरती के छोटे से क्षेत्र में हलचल की समस्या आई थी, जिसकी वजह गैस ही थी। 

The earth is trembling in 50 meters area in Sarnath, this fear is being expressed asa
Author
Varanasi, First Published Dec 15, 2020, 6:24 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाराणसी (Uttar Prades) । सारनाथ से एक बड़ी खबर आ रही है। यहां 50 मीटर क्षेत्र में धरती रुक-रुककर हिल रही है। आज दोपहर बाद भूकंपीय कंपन को लेकर प्रशासनिक महकमा भी सक्रिय हो गया। डीएम के निर्देश पर दोपहर टीम ने क्षेत्र में डेरा डाला और जांच पड़ताल शुरू की। प्रभावित लोगों से बातचीत में की। इस दौरान लोगों ने टीम से अपने अनुभव साझा करते हुए अपनी चिंता जाहिर की। बताते हैं कि लोगों के अनुभव सुनकर अधिकारी भी हैरान हो गए।

यह है पूरा मामला
सोमवार की दोपहर तक रुक-रुक कर सारनाथ के 50 मीटर के क्षेत्र में धरती का हिस्सा हिलता रहा। इस दौरान दुकानों के शटर, गाड़ियां, बेंच, कुर्सियां और बोतल में पानी भी बहुत तेजी से कंपन करने लगा। शटर से तेज आवाजें भी आने लगीं तो किसी अनहोनी की आशंका में लोग घबराकर दूर भाग खड़े हुए। लेकिन, दिनभर यही हाल रहने और ज्यादा वक्त बीतने के बाद भी हलचल खत्म नहीं हुई तो लोगों की चिंता काफी बढ़ गई और दिनभर लोग भूकंप का अनुभव लेने सारनाथ आने लगे। 

बेंगलुरू के एक गांव में हो चुका है ऐसा
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक संभव है इस खास क्षेत्र में धरती के नीचे गैस बन रही हो और उसे निकलने का स्थान न मिल रहा हो। कुछ समय पहले बेंगलुरु के एक गांव में भी धरती के छोटे से क्षेत्र में हलचल की समस्या आई थी, जिसकी वजह गैस ही थी। 

भू-वैज्ञानिकों ने जताई ये आशंका
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भू एवं मौसम वैज्ञानियों का कहना है कि कंपन वाले इलाके के दायरे में कोई पुरातात्विक अवशेष भी हो सकता है। हालांकि बिना जांच किए प्रमाणिक तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios