Asianet News Hindi

यूपी में कोरोना से जंग जीतने को तैयार की गई रणनीति, इस सेक्टर प्रणाली से हर मरीज को मिलेगा बेड

बीते कई दिनों से राज्य में 30 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं। मंगलवार को पिछले 24 घंटों में भी कोरोना वायरस के 32,993 नए मामले सामने आए हैं और 30,398 लोग डिस्चार्ज हुए हैं। सक्रिय मामलों की कुल संख्या 3,06,458 है। हालांकि 4 करोड़ से ज्यादा टेस्ट करने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य बन गया है।
 

The strategy devised to win the war against Corona in UP, DM will implement sector system, beds will be provided to patients ASA
Author
Lucknow, First Published Apr 28, 2021, 2:03 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh) । कोरोना के बढ़ते संक्रमण से लड़ने के लिए योगी सरकार ने बड़ी रणनीति तैयार की है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी जिलाधिकारियों को कोविड प्रबंधन के तहत सेक्टर प्रणाली लागू करने के निर्देश दिए हैं। जिसके तहत हर सेक्टर में एक महत्वपूर्ण अधिकारी तैनात होगा, जिसकी निगरानी में उस क्षेत्र में कोविड जांच से लेकर मरीजों को इलाज मुहैया कराए जाने तक का पूरा प्रबंध किया जाएगा।

डीएम-सीएमओ होंगे जिम्मेदार
सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश के मुताबिक सेक्टर यह सुनिश्चित कराएंगे कि हर जरूरतममंद मरीज को बेड मिले। जरूरत ऑक्सीजन की हो, वेंटिलेटर की हो अथवा जीवनरक्षक दवाओं की, उपलब्ध कराया जाना सुनिश्चित करें। बेड आवंटन और डिस्चार्ज पॉलिसी को प्रभावी ढंग से लागू कराएं। किसी जिले में शासनादेशों का उल्लंघन होता हुआ पाया गया तो संबंधित जिलाधिकारी और सीएमओ की जवाबदेही तय की जाएगी।

ऑक्सीजन आपूर्ति हो रही हर दिन बेहतर
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि ऑक्सीजन की आपूर्ति हर दिन बेहतर होती जा रही है। टैंकरों की संख्या भी बढ़ी है, 64 टैंकर इसी कार्य में लगाये गए हैं। इसके अलावा, 20 टैंकर विभिन्न जिलों में सीधे अस्पतालों को आपूर्ति कर रहे हैं। भारत सरकार से भी आठ नए टैंकर मिल रहे हैं। इसके अलावा जमशेदपुर से ऑक्सीजन की आपूर्ति कराई जा रही है। इसके अलावा प्रदेश के विभिन्न चिकित्सा संस्थानों में 32 ऑक्सीजन प्लांट पहले से ही स्थापित हैं। अब 39 और अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए आदेश कर दिए गए हैं।

सीएम के निर्देश की मुख्य बातें
-हर मेडिकल कॉलेज में एक लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट और एक एयर सेपरेटर प्लांट स्थापित किया जाए।
-100 बेड से अधिक क्षमता वाले सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट बनाने की कार्ययोजना तैयार करें।
-होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों के लिए विशेष टेलीकन्सल्टेशन की व्यवस्था शुरू की जाए।
-टेलीकन्सल्टेशन के लिए हर जिले में दो-तीन फोन नम्बर जरूर हों।
-सभी जिलों में दो-दो सीएचसी को कोविड मरीजों के सेवार्थ समर्पित किए जाए।
-कोविड हॉस्पिटल के रूप में नए निजी अस्पतालों को भी जोड़ा जाए।

वैक्सीनेशन की तैयारी लगी है सरकार 
अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने कहा है कि वैक्सीनेशन के अभियान को लेकर एक करोड़ से ज्यादा डोज का आदेश निर्गत किया गया है। प्रयास किया जा रहा है कि समय पर डोज उपलब्ध कराई जाएं। 

यूपी में कोरोना की है स्थिति
बीते कई दिनों से राज्य में 30 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं। मंगलवार को पिछले 24 घंटों में भी कोरोना वायरस के 32,993 नए मामले सामने आए हैं और 30,398 लोग डिस्चार्ज हुए हैं। सक्रिय मामलों की कुल संख्या 3,06,458 है। हालांकि 4 करोड़ से ज्यादा टेस्ट करने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य बन गया है।

Asianet News का विनम्र अनुरोधः आइए साथ मिलकर कोरोना को हराएं, जिंदगी को जिताएं...। जब भी घर से बाहर निकलें माॅस्क जरूर पहनें, हाथों को सैनिटाइज करते रहें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। वैक्सीन लगवाएं। हमसब मिलकर कोरोना के खिलाफ जंग जीतेंगे और कोविड चेन को तोडेंगे। #ANCares #IndiaFightsCorona
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios