Asianet News HindiAsianet News Hindi

राक्षस बना तांत्रिक, 10वीं के छात्र की दी बलि, जीभ काटकर भूंसे में छिपाया शव, ऐसे खुला राज

पुलिस ने शक के आधार पर तांत्रिक के दोनों बेटों को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। इसके बाद शुक्रवार की दोपहर जानकारी मिली कि गोविंद का शव गांव के बाहर झाड़ियों में पड़ा हुआ है। मौके पर पहुंची पुलिस ग्रामीणों ने देखा कि गोविंद की जीभ काटी गई थी। इसके साथ ही उसके शरीर चोटों के निशान थे। उसकी हत्या गलाघोट कर की गई है।
 

The tantric became a demon, slaughtered a class 10th student, bitten his tongue and hid the corpse, such an open secret ASA
Author
Kanpur, First Published May 30, 2020, 5:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कानपुर (Uttar Pradesh) । एक तांत्रिक राक्षस बन गया। उसने गांव के ही एक 10वीं के छात्र की बलि दे दी। उसके जीभ काट कर तंत्रमंत्र की भेंट चढा दिया और शव को भूसे के ढेर में पूरी रात छिपाकर रखा गया। मौका देखकर अगले दिन शव को गांव के बाहर झाड़ियों के बीच फेंक दिया। जिसका शव आज बरामद हुआ तो गांव में हड़कंप मच गया। पुलिस ने तांत्रिक और उसके दोनों बेटों को गिरफ्तार किया है। यह मामला बिठूर थाना क्षेत्र स्थित प्रेम गांव का है। 

यह है पूरा मामला
बिठूर थाना क्षेत्र स्थित प्रेम गांव में रहने वाले विष्णु शर्मा कारपेंटर का काम करता है और तंत्रमंत्र भी जानता है। लोग तंत्रमंत्र कराने के लिए आते थे। गुरुवार रात तांत्रिक विष्णु शर्मा का लड़का अमन गांव निवासी प्रेम सागर के बेटे गोविंद (16) को लेने घर आया था। गोविंद देर रात घर वापस नहीं लौटा तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। गोविंद के परिजन तांत्रिक के घर पहुंचे तो पूरे घर ने चुप्पी साध ली।

ऐसे खुला राज
गोविंद के परिजनों पुलिस से गुहार लगाई। पुलिस ने शक के आधार पर तांत्रिक के दोनों बेटों को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। इसके बाद शुक्रवार की दोपहर जानकारी मिली कि गोविंद का शव गांव के बाहर झाड़ियों में पड़ा हुआ है। मौके पर पहुंची पुलिस ग्रामीणों ने देखा कि गोविंद की जीभ काटी गई थी। इसके साथ ही उसके शरीर चोटों के निशान थे। उसकी हत्या गलाघोट कर की गई है।

जांच में ये बातें आई सामने
जांच में यह बात सामने आई कि गोविंद को गुरुवार देर रात तक यातनांए दी गई। उसकी हत्या कर शव को भूसे के ढेर में छिपा दिया गया। शुक्रवार सुबह शव को भूसे के ढेर से निकाल गांव के बाहर फेंक दिया गया। सीओ अजय कुमार के मुताबिक पुलिस तंत्रमंत्र  लेनदेन और प्रेम संबंध जैसे मुद्दो पर जांच कर रही है।

जून में थी बहन की शादी
प्रेम सागर काफी दिनों से बीमार चल रहे थे। परिवार में पत्नी सुशीला, दो बेटियों कोमल, नीतू और दो बेटों गोविंद और सचिन हैं। पूरे परिवार की जिम्मेदारी उनके बेटे गोविंद के कंधों पर थी। गोविंद (16) एक प्राइवेट कालेज में 10 वीं का छात्र था। इसके साथ ही गोविंद गांव में चाउमीन का दुकान भी लगाता था। बड़ी बहन की 15 जून को शादी थी और 5 जून को तिलक जाना था।

किसी ने किया शॉक्ड तो किसी ने रोंगटे खड़े कर दिया...क्लिक करके देखें ऐसे ही वीडियो...

कांच तोड़ चलती कार में कछुआ ने किया अटैक, देखें चौंकाने वाला वीडियो

अपने बेटे को मुसीबत में नहीं देख पाई ये मां, लगा दी जान ताकि बच पाए कलेजा का टुकड़ा

समुद्र किनारे बहती हुई आई 40 फीट के 'दानव' की लाश, हटाने में छूटे पसीने

जन्म के तुरंत बाद मिट्टी में दफनाया जिंदा नवजात, रोने की आवाज से मिली जिंदगी

कोरोना के कारण कोमा में चली गई थी प्रेग्नेंट महिला लेकिन...

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios