Asianet News HindiAsianet News Hindi

बर्थ डे मनाने के लिए पैसे नहीं थे, पिता ने तैयार किया कुछ ऐसा प्लान, पुलिस ने दिला दिया केक

बेटी के लिए केक मिलने पर आनंद की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। उसने पुलिस को धन्यवाद दिया। केक लेकर चला गया।थाना प्रभारी निरीक्षक अजय कौशल का कहना है कि आनंद एक प्राइवेट नौकरी करता है। मगर, उसके पास रुपए नहीं थे। इस वजह से उसने लूट का ड्रामा रच दिया था। उससे कहा गया है कि वे किसी तरह की जरूरत होने पर पुलिस से मदद ले सकता है।

There was no money to celebrate the birthday, father prepared some such plan, the police gave the cake asa
Author
Agra, First Published Dec 13, 2020, 2:26 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

आगरा (Uttar Pradesh) । बेटी के जन्मदिन पर केक तक के लिए पैसा न होने पर एक मजबूर पिता को कुछ नहीं सूझा तो झूठी लूट की कहानी तैयार कj ली। फिर, पुलिस को सूचना देकर खुद के साथ लूट होने की खबर दी। हालांकि पुलिस ने पूछताछ की तो उसने सारी हकीकत बता दी। पिता की मजबूरी देखकर पुलिस का भी दिल पसीज गया और केक मंगवा कर घर भेज दिया, उपहार देने का भी भरोसा दिया। यह घटना हरीपर्वत थाना क्षेत्र के सूर सदन तिराहे का है।

यह है पूरा मामला 
न्यू आगरा के कौशलपुर निवासी आनंद शर्मा की बेटी का जन्मदिन था। वो केक और उपहार के लिए जिद कर रही थी। ऐसे लाचार पिता को कुछ समझ में नहीं आया। पुलिस को सूचना दिया कि बाइक सवार बदमाश दस हजार रुपए और मोबाइल लूट कर ले गए हैं। इस पर था पुलिस मौके पर पहुंच गई। पूछताछ में उसने बताया कि एटीएम से रुपए निकाला थे। जैसे ही बाहर आया दो बदमाश आ गए। रुपए और मोबाइल लूट कर भाग गए। लेकिन, जांच में उसके पास एटीएम कार्ड ही नहीं मिला था।

सच सामने आने पर पुलिस ने किया ये काम
पुलिस को शक हो गया, उससे और बात की। तब उसने बताया कि आज उसकी बेटी का जन्मदिन है। बेटी केक और उपहार लाने के लिए जिद कर रही थी। इस पर वह घर से निकल आया। लूट का ड्रामा इसलिए रच दिया कि घर जाएगा तो इस घटना की जानकारी देगा और कोई उसे केक लाने के लिए नहीं कहेगा। इस पर थाना प्रभारी का दिल पसीज गया। उन्होंने उससे माफीनामा लिखवाया। इसके बाद केक मंगवा कर दिया।

प्राइवेट नौकरी करता है युवक
बेटी के लिए केक मिलने पर आनंद की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। उसने पुलिस को धन्यवाद दिया। केक लेकर चला गया।थाना प्रभारी निरीक्षक अजय कौशल का कहना है कि आनंद एक प्राइवेट नौकरी करता है। मगर, उसके पास रुपए नहीं थे। इस वजह से उसने लूट का ड्रामा रच दिया था। उससे कहा गया है कि वे किसी तरह की जरूरत होने पर पुलिस से मदद ले सकता है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios