Asianet News Hindi

UP BOARD परीक्षा का रिजल्ट जारी, 12वीं में बागपत के अनुराग मालिक और 10वीं में वहीं की रिया जैन टॉपर

डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने शनिवार को दिन में 12 बजकर पांच मिनट पर लोक भवन में उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड परीक्षा 2020 का परिणाम घोषित कर दिया। 

UP board high school and intermediate results declared kpl
Author
Lucknow, First Published Jun 27, 2020, 12:40 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ(Uttar Pradesh). डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने शनिवार को दिन में 12 बजकर पांच मिनट पर लोक भवन में उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड परीक्षा 2020 का परिणाम घोषित कर दिया। हाईस्कूल तथा इंटर परीक्षा के परिणाम का छात्र-छात्राओं को लम्बे समय से इंतजार था। लखनऊ में पहली बार हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया।  डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि इस बार हाई स्कूल व इंटरमीडिएट दोनों का रिजल्ट पिछले साल की तुलना में अच्छा गया है। हाईस्कूल का परिणाम पिछले वर्ष से काफी अच्छा आया है। इस बार 74.63% छात्र-छात्राएं हुए पास हुए हैं वहीं 12वीं में अनुराग मालिक ने टॉप किया है।

दसवीं में इस साल 83.31 % फीसदी बच्चों ने सफलता हासिल की। वहीं 12वीं में 74.63 प्रतिशत बच्चों ने परचम लहराया। वहीं यूपी बोर्ड की 10वीं की टॉपर बागपत की रिया जैन रहीं, जिन्होंने 96.67% अंक हासिल किए। जबकि 12वीं के टॉपर भी बागपत से ही रहे। यहां से अनुराग मलिक ने 97 फीसदी अंक हासिल किए।

इंटरमीडिएट टॉपर्स

इंटरमीडिएट में बागपत के अनुराग मलिक ने पहला स्थान प्राप्त किया उन्हें 97 प्रतिशत अंक प्राप्त हुए हैं। दूसरे नंबर पर प्रयागराज के प्रांजल 96 प्रतिशत अंक पाकर रहे और तीसरे नंबर पर औरैया के उत्कर्ष शुक्ला 94.80 प्रतिशत अंक प्राप्त कर रहे।

(अनुराग मलिक इंटरमीडिएट टॉपर)

 

हाईस्कूल टॉपर्स

हाई स्कूल में बागपत की रिया जैन ने 96.67 प्रतिशत अंक प्राप्त कर पहला स्थान प्राप्त किया। दूसरे नंबर पर बाराबंकी के अभिमन्यु वर्मा 95.83 प्रतिशत अंक पाकर रहे। बाराबंकी के ही योगेश प्रताप सिंह तीसरे नंबर पर रहे उन्हें 95.33 प्रतिशत अंक मिले हैं।

(रिया जैन- हाईस्कूल टॉपर) 

डिप्टी सीएम ने कहा कोरोना के संक्रमण काल में यह परिणाम घोषित होना बड़ी उपलब्धि है। दो करोड़ 96 लाख कॉपियों का को 21 दिनों में जांचना भी बड़ी उपलब्धि है। शर्मा ने कहा कि इस बार नकल विहीन परीक्षा हो इसके लिए पर्याप्त इंतजाम किए गए थे। लखनऊ से परीक्षा केंद्रों का लइव मॉनीटरिंग की जा रही थी। इस बात परीक्षा में तकनीक का पूर उपयोग किया गया। इस बार पहली बार इंटरमीडिएट में कंपर्टमेंट की व्यवस्था की गई है। यानी जो उनुत्तीर्ण हुए हैं उन्हें भी फिर उत्तीर्ण होने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि हमने इस बार रिकॉर्ड समय में हमने परीक्षा सम्पन्न कराई। हाईस्कूल की परीक्षा 12 दिन तथा इंटरमीडिएट परीक्षा को 15 दिन में पूरा कराया। नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए हमने हाईटेक व्यवस्था की थी। 


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios