Asianet News HindiAsianet News Hindi

UP Election 2022: रायबरेली में स्मृति ईरानी का कांग्रेस पर बड़ा हमला, कहा- मेरा भ्रम टूट गया

रायबरेली पहुंची स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि आज जब रामेश्वर तेली रायबरेली पधारे तो उन्होंने कहा दीदी हमने तो रायबरेली और अमेठी के बारे में सुना था उसको देखकर यह लगा कि यहां पर गरीब 55 वर्षों से एक बड़े परिवार की असीम कृपा का पात्र होगा, लेकिन हकीकत कुछ और दिखी। उन्होने कहा कि कामदार के लिए एक मुफ्त का भवन बनाने के लिए किसी ने जहमत नही उठाई।

UP Election 2022 Smriti Irani big attack on Congress in Rae Bareli said my illusion is broken
Author
Raebareli, First Published Nov 27, 2021, 1:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रायबरेली: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) शनिवार को रायबरेली पहुंचकर ईएसआईसी डिस्पेंसरी का उद्घाटन किया। उनके साथ केंद्रीय श्रम राज्यमंत्री रामेश्वर तेली भी मौजूद थे। स्मृति ईरानी ने यहां अपने संबोधन में रायबरेली सांसद सोनिया गांधी (Soniya gandhi), कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) पर तंज कसा।

स्मृति ने सोनिया-राहुल पर  साधा निशाना

स्मृति ईरानी ने कहा आज जब रामेश्वर तेली रायबरेली पधारे तो उन्होंने कहा दीदी हमने तो रायबरेली और अमेठी के बारे में सुना था उसको देखकर यह लगा कि यहां पर गरीब 55 वर्षों से एक बड़े परिवार की असीम कृपा का पात्र होगा, लेकिन हकीकत कुछ और दिखी। रामेश्वर तेली के दिल में यह टीस थी कि 1971 से ईएसआईसी का काम किराए पर चल रहा है। स्मृति ने कहा कि कामदार के लिए एक मुफ्त का भवन बनाने के लिए किसी ने जहमत नही उठाई। स्मृति ने कहा मैंने रामेश्वर तेली से कहा आप असम से दूसरे प्रतिनिधि हैं जो रायबरेली की बात कर रहे हैं। यूपीए के कार्यकाल में मनमोहन सिंह देश के प्रधानमंत्री होने का अपना गौरव बतलाते हैं वो भी असम के प्रतिनिधि थे। लेकिन आज पहली बार असम का प्रतिनिधि रायबरेली पधारा है।

तीन वर्षों के बाद मीटिंग में  लिया हिस्सा

बता दें कि शनीवार को स्मृति ईरानी रायबरेली में कलेक्ट्रेट स्थित मीटिंग हॉल में दिशा की मीटिंग में शामिल हुई हैं। कलेक्ट्रेट सभागार में वह जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति (दिशा) की बैठक की अध्यक्षता कर रही हैं। यहां पर यह बैठक करीब तीन वर्ष बाद हो रही है। आमतौर पर सांसद ही दिशा की बैठक की अध्यक्षता करता है, लेकिन रायबरेली से कांग्रेस की सांसद सोनिया गांधी का लम्बे समय से यहां पर आगमन नहीं हो पाया है। करीब तीन साल बाद हो रही इस बैठक में केंद्रीय योजनाओं की समीक्षा होगी। जिले के विकास के लिहाज से यह बैठक काफी अहम मानी जा रही है।इस बैठक को लेकर यहां के जिला प्रशासन ने जोरदार तैयारी की है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios