Asianet News HindiAsianet News Hindi

UP News: 29 नवम्बर से तीन दिनों तक बंद हो सकता है काशी विश्वनाथ मंदिर, शासन के निर्णय के बाद होगी घोषणा

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आगामी 13 दिसम्बर को वाराणसी(Varanasi)  दौरा प्रस्तावित है। उनके आगमन से पहले मंदिर प्रशासन ने 29 नवम्बर से एक दिसम्बर के बीच काशी विश्वनाथ मंदिर में आम लोगों का प्रवेश बंद रखने के लिए शासन से अनुमति मांगने का प्रस्ताव तैयार हो रहा है। शासन का निर्णय आने के बाद पाबंदी की घोषणा कर दी जाएगी। 
 

UP News: Kashi Vishwanath temple may be closed for three days from November 29, will be announced after the decision of the government
Author
Lucknow, First Published Nov 24, 2021, 8:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाराणसी/लखनऊ: काशी विश्वनाथ कॉरिडोर (Kashi Vishwanath Corridor) के लोकार्पण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra modi) का 13 दिसंबर को वाराणसी(Varanasi) दौरा प्रस्तावित है। इससे पहले तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए काशी विश्वनाथ मंदिर(Kashi Vishvanath Mandir) को तीन दिनों तक आम लोगों के लिए बंद किया जाएगा। विश्वनाथ मंदिर न्यास इसकी तैयारी कर रहा है। मंदिर के शिखर की सफाई व गर्भगृह के आसपास मरम्मत व निर्माण कार्य (repair and construction work) के चलते यह निर्णय लिया जा रहा है। 29 नवम्बर से एक दिसम्बर के बीच आम लोगों का प्रवेश बंद रखने के लिए शासन से अनुमति मांगने का प्रस्ताव तैयार हो रहा है। शासन के निर्णय के बाद मंदिर प्रशासन आम लोगों के प्रवेश पर पाबंदी की घोषणा करेगा। 


गंगा किनारे मणिकर्णिका व लालिता घाट से काशी विश्वनाथ मंदिर तक करीब 54 हजार वर्ग मीटर में निर्माणाधीन काशी विश्वनाथ कॉरिडोर प्रोजेक्ट का कार्य अब अंतिम चरण में है। लोकार्पण की संभावित तिथि 13 दिसम्बर बताई जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकार्पण करने के लिए पहुंचेंगे। पूजन मंदिर परिसर में ही कराया जाएगा। इसको देखते हुए गर्भगृह वाले मंदिर परिसर के कार्यों को प्राथमिकता पर कराया जा रहा है। फर्श पर काम कराने के साथ ही शिखर की सफाई व गर्भगृह के आसपास के मरम्मत कार्य भी कराया जाना है। नवम्बर के अंतिम हफ्ते तक इन सभी कार्यों को पूरा करने की कार्ययोजना तैयार हुई है। 

निर्माण के दौरान श्रद्धालुओं की भारी भीड़ होने से काम प्रभावित हो जाता है। इसके लिए कभी-कभी गर्भगृह बंद कर झांकी दर्शन कराया जाता है। काम को अंतिम रूप देने के लिए मंदिर प्रशासन ने दो से तीन दिन के लिए आम लोगों के प्रवेश बंद करना चाहता है। उस दौरान रात-दिन काम कराया जाएगा। ताकि उसके बाद फिर दर्शन-पूजन में किसी श्रद्धालु को दिक्कत न हो। शासन से अनुमति मिलने के बाद इसकी जानकारी सार्वजनिक की जाएगी। सूचना मंदिर की वेबसाइट के साथ विज्ञापन के जरिए भी जारी होगी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios