Asianet News Hindi

यूपी पंचायत चुनावः रिटायरमेंट के 3 दिन पहले जेल गया था ये IPS, अब सपा से बीवी और भयहू को मिला टिकट

इंदू सेन यादव के पति पूर्व मंत्री आनंद सेन यादव सपा से ही विधायक रह चुके हैं और बसपा में यह मंत्री भी थे। बता दें आईपीएस अरविंद सेन यादव और पूर्व मंत्री आनंद सेन यादव अयोध्या जनपद के दिग्गज नेता रहे स्वर्गीय मित्रसेन यादव के पुत्र हैं।

UP Panchayat Election: IPS Anand Sen's wife and brother's wife got ticket from SP asa
Author
Ayodhya, First Published Mar 30, 2021, 6:23 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अयोध्या (Uttar Pradesh) । समाजवादी पार्टी ने जिला पंचायत सदस्यों के लिए सूची जारी कर दी है। इस सूची में जेल में बंद आईपीएस अधिकारी अरविंद सेन यादव की पत्नी प्रियंका सेन यादव को हैरिंग्टनगंज प्रथम और अरविंद सेन के छोटे भाई पूर्व मंत्री आनंद सेन यादव की पत्नी इंदू सेन यादव को हैरिंग्टनगंज तृतीय से मैदान में उतारा है। बता दें आईपीएस अरविंद सेन यादव पशुपालन घोटाले में काफी समय तक फरार रहने के बाद रिटायरमेंट से ठीक तीन दिन पहले सरेंडर किए थे। जिन्हें जेल भेज दिया गया था। वो इस समय जेल में बंद हैं।

सपा से विधायक, बसपा से बने थे मंत्री
इंदू सेन यादव के पति पूर्व मंत्री आनंद सेन यादव सपा से ही विधायक रह चुके हैं और बसपा में यह मंत्री भी थे। बता दें आईपीएस अरविंद सेन यादव और पूर्व मंत्री आनंद सेन यादव अयोध्या जनपद के दिग्गज नेता रहे स्वर्गीय मित्रसेन यादव के पुत्र हैं।

जानिए क्या है पूरा मामला
13 जून साल 2020 को इस मामले की FIR इंदौर के एक व्यापारी मंजीत सिंह भाटिया उर्फ रिन्कू ने थाना हजरतंगज में दर्ज कराई थी। इस मामले में मोंटी गुर्जर, आशीष राय व उमेश मिश्रा समेत 13 अभियुक्तों को नामजद किया गया था। विवेचना में आईपीएस अधिकारी अरविंद सेन का नाम भी प्रकाश में आया। अभियुक्तों पर झूठे दस्तावेजों व फर्जी नाम से गेहूं, आटा, शक्कर व दाल आदि की सप्लाई का ठेका दिलवाने के नाम पर 9 करोड़ 72 लाख 12 हजार रुपए की ठगी का आरोप है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios