Asianet News Hindi

मायावती ने किया बड़ा ऐलान: यूपी में अपनी दम कर चुनाव लड़ेगी BSP, ओवैसी की पार्टी से नहीं कोई गठबंधन

पिछले कुछ दिन से सियासी गलियारों में कयास लगाए जा रहे थे कि यूपी के विधानसभा आमचुनाव में औवेसी की पार्टी AIMIM और मायाबती की बीसपी के बीच गठबंधन हो सकता है। हालांकि, बहन जी ने रविवार को ट्वीट कर इन सब बातों का खंडन कर दिया। 

uttar pradesh assembly election mayawati big announcement bsp will fight alone in up and uttarakhand denied with asaduddin owaisi kpr
Author
Lucknow, First Published Jun 27, 2021, 2:02 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (उत्तर प्रदेश), देश की राजनीति में सबसे अहम किरदार निभाने वाले राज्य उत्तर प्रदेश में साल 2022 में विधानसभा चुनाव होने हैं। लेकिन सभी पार्टियों ने अभी से इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसी बीच बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती ने चुनाव को लेकर बड़ा एलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि बीएसपी पार्टी यूपी में अकेले चुनाव लड़ेगी। 

मायावती ने सारे कयासों पर लगाया विराम
दरअसल, पिछले कुछ दिन से सियासी गलियारों में कयास लगाए जा रहे थे कि यूपी के विधानसभा आमचुनाव में औवेसी की पार्टी AIMIM और मायाबती की बीसपी के बीच गठबंधन हो सकता है। हालांकि, बहन जी ने रविवार को ट्वीट कर इन सब बातों का खंडन कर दिया। साथ ही उन्होंने ऐलान किया कि वह  उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में अकेले दम पर चुनाव लडेंगी। 

BSP सुप्रीमो ने एक करके किए चार ट्वीट
मायाबती ने एक करके चार  ट्वीट किए, जिसमें उन्होंने सारे कायसों पर विराम लगा दिया। उन्होंने अगला ट्वीट कर लिखा  'पंजाब को छोड़कर  बीएसपी अगले तीन साल तक किसी भी राज्य या पार्टी के साथ कोई भी गठबन्धन करके चुनाव नहीं लडेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि मीडिया के एक न्यूज चैनल में कल से यह खबर प्रसारित की जा रही है कि यूपी में आगामी विधानसभा आमचुनाव औवेसी की पार्टी AIMIM व  बीएसपी मिलकर लड़ेगी। यह खबर पूर्णतः गलत, भ्रामक व तथ्यहीन है। इसमें रत्तीभर भी सच्चाई नहीं है तथा बीएसपी इसका जोरदार खंडन करती है।

 सांसद सतीश चंद्र मिश्र को बनाया मीडिया सेल का कोआर्डिनेटर
इसके अलावा मायावती ने सोशल मीडिया पर जानकारी देते हुए कहा कि बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव व राज्यसभा सांसद सतीश चन्द्र मिश्र को मीडिया सेल का राष्ट्रीय कोओर्डिनेटर बना दिया गया है। बीएसपी के बारे में इस किस्म की मनगढ़न्त व भ्रमित करने वाली खबरों को खास ध्यान में रखकर यह फैसला लिया गया है। अब जिसे जो जानकारी चाहिए वह सतीश चन्द्र मिश्र से ले सकते हैं।

 


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios