Asianet News HindiAsianet News Hindi

बूथ कार्यकर्ताओं की बल्ले-बल्ले : अमित शाह के दौरे से पहले दिवाली 'गिफ्ट', घर-घर सजेगा 'तोरण द्वार'

राज्य के 30 लाख बूथ कार्यकर्ताओं को दीवाली पर तोरण द्वार और कमल रूपी दीपक भेजे जाएंगे। पार्टी की इस कवायद को कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाने से जोड़कर देखा जा रहा है। हाईकमान का निर्देश है कि किसी भी सूरत में कोई भी सक्रिय कार्यकर्ता नहीं छूटना चाहिए। 

uttar pradesh, bjp sends diwali gifts to 30 lakh booth level workers, before amit shah visit
Author
Lucknow, First Published Oct 28, 2021, 3:01 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) से पहले भारतीय जनता पार्टी सक्रिय कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को पारिवारिक माहौल का एहसास दिलाने जा रही है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (amit shah) के दौरे से पहले पार्टी ने ऐसे कार्यकर्ताओं को दिवाली गिप्ट दिया है। राज्य के 30 लाख बूथ कार्यकर्ताओं को दीवाली पर तोरण द्वार और कमल रूपी दीपक भेजे जाएंगे। पार्टी की इस कवायद को कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाने से जोड़कर देखा जा रहा है।

गिफ्ट में 'तोरण द्वार' और 'कमल दीपक' 
बीजेपी (bjp) के प्रदेश इकाई के उपाध्यक्ष और विधान परिषद सदस्य विजय बहादुर पाठक ने गुरुवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि हम सब एक साथ काम करते हैं और बूथ कार्यकर्ता बीजेपी परिवार की सबसे महत्वपूर्ण कड़ी है। दीपावली पर उपहार देने की परंपरा रही है इसलिए पार्टी ने 30 लाख से अधिक बूथ कार्यकर्ताओं को दीपावली का उपहार भेजा है। राज्‍य में एक लाख 63 हजार बूथ हैं और भाजपा ने डेढ़ लाख से अधिक बूथों पर 20-20 सदस्यीय कमेटी का गठन किया है। राज्य में बीजेपी के 30 लाख से अधिक बूथ स्तर के कार्यकर्ता हैं। उपहार के पैकेट में 'तोरण द्वार' और 'कमल दीपक' है। कमल दीपक मिट्टी का दीया है जो बीजेपी के चुनाव चिह्न कमल के आकार का है।

इसे भी पढ़ें-RAS Exam में इंटरनेट बंद करने पर गहलोत सरकार की फजीहत, लड़की के टॉप की आस्तीन काटने पर NCW ने भेजा नोटिस

प्रकोष्ठ और मोर्चा प्रभारियों को जिम्मेदारी
दिवाली उपहार के लिए भाजपा ने सभी सक्रिय कार्यकर्तायों को शामिल किया है। हाईकमान का निर्देश है कि किसी भी सूरत में कोई भी सक्रिय कार्यकर्ता नहीं छूटना चाहिए। इसके लिए वार्ड अध्यक्ष को क्रॉस लिस्ट तैयार करने को कहा गया है। 30 लाख कार्यकर्तायों तक कम समय मे दीये पहुंचाना एक बड़ी चुनौती भी है। इसके लिए मुख्य संगठन के साथ सभी प्रकोष्ठों और मोर्चा पदाधिकारियों को भी लगाया जाएगा। 

बूथ मैनेजमेंट पर रहा है फोकस
साल 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बूथ प्रबंधन पर जोर दिया था और बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं के घर जाकर, भोजन करके एक परिवारिक माहौल बनाने की कोशिश की थी। शाह ने प्रदेश के हर क्षेत्र में बूथ स्तर के सम्‍मेलनों को भी संबोधित किया। उसी क्रम में पार्टी ने बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं को दीपावली का उपहार भेजा है। शुक्रवार को अमित शाह लखनऊ आ रहे हैं और उनकी सभा भी आयोजित की गई है।

इसे भी पढ़ें-UP: 68 लाख छात्रों को कब मिलेंगे टैबलेट और स्‍मार्टफोन? CM योगी ने ये कहा, जानिए पूरा प्‍लान

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios