Asianet News Hindi

योगी सरकार करने जा रही मंत्रिमंडल का विस्तार, इस पूर्व IAS को डिप्टी सीएम बनाने की चर्चा..जानिए वजह

सीएम योगी आज शाम 7 बजे राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मिलने वाले हैं। जिसको लेकर मंत्रिमंडल के विस्तार की अटकलें तेज हो गई हैं। सियासी गलियारों में चर्चा होने लगी है कि राज्य सरकार 2022 में उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर यह मंत्रिमंडल विस्तार करने जा रही है।

uttar pradesh cabinet expansion cm yogi adityanth governor anandiben patel meeting  KPR
Author
Lucknow, First Published May 27, 2021, 2:50 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (उत्तर प्रदेश). कोरोना महामारी के बीच में यूपी सरकार में दूसरी बार मंत्रिमंडल के विस्तार की चर्चा तेज हो गई। बताया जा रहा है कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसकी तैयारियां भी शुरू कर दी हैं। इसके लिए जल्द ही मुख्यमंत्री प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल मुलाकात करेंगे। इस मुलाकात के लिए आनंदीबेन पटेल आज अचानक मध्यप्रदेश के सभी कार्यक्रम निरस्त करके लखनऊ पहुंच गई हैं।

सियासी गलियारों में हो रही ये चर्चा
दरअसल, सीएम योगी आज शाम 7 बजे राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मिलने वाले हैं। जिसको लेकर मंत्रिमंडल के विस्तार की अटकलें तेज हो गई हैं। सियासी गलियारों में चर्चा होने लगी है कि राज्य सरकार 2022 में उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर यह मंत्रिमंडल विस्तार करने जा रही है। माना जा रहा है कि एक दो दिन के भीतर मंत्रिमंडल विस्तार हो सकता है।

अभी ऐसी है योगी सरकारी टीम
बता दें कि योगी सरकार का पहला मंत्रिमंडल का विस्तार 19 मार्च 2017 को हुआ था। उस दौरान उनके मंत्रिमंडल में 56 सदस्य थे। लेकिन कोरोना महामारी के चलते राज्य सरकार के तीन मंत्रियों निधन हो गया। पिछली साल  मंत्री चेतन चौहान और मंत्री कमल रानी वरुण का निधन हुआ था। जबकि दूसरी लहर में कुछ दिन पहले ही राज्यमंत्री विजय कुमार कश्यप की मौत हुई। मौजूदा मंत्रिमंडल में 23 कैबिनेट मंत्री, 9 स्वतंत्र प्रभार मंत्री और 22 राज्यमंत्री हैं। इस तरह से यूपी सरकार में कुल मिलाकर 54 मंत्री हैं। इस गणित के हिसाब से अभी 6 मंत्री पद खाली है, जिन्हें बढ़ाया जा सकता है।

पूर्व IAS एके शर्मा बन सकते हैं डिप्टी सीएम
मीडिया सूत्रों के मुताबिक, पूर्व IAS एके शर्मा को राज्य का डिप्टी सीएम बनाए जाने की चर्चा है। जबकि मौजूदा समय में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को उत्तर प्रदेश भाजपा की कमान सौंपने की चर्चा है। क्योंकि सरकार केशव प्रसाद मौर्य  के बहाने OBC चेहरे के साथ  अगला विधानसभा चुनाव जीतना चाहती है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios