Asianet News Hindi

हाथरस केस में सबसे बड़ा मोड़: आरोपी ने कहा-हां लड़की से दोस्ती थी, लेकिन..पढ़िए चौंकाने वाला खुलासा

हाथरस गैंगरेप में के मुख्य आरोपी संदीप ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। उसने एसपी को एक चिट्टी में लिखा-उसकी पीड़िता से दोस्ती थी, लेकिन उसको मां और भाई ने मिलकर मारा।

uttar pradesh hathras case prime accused sandeep Written letter to police sp KPR
Author
hathras, First Published Oct 8, 2020, 10:40 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हाथरस (उत्तर प्रदेश). हाथरस गैंगरेप (Hathras Case) को लेकर पूरे देश में जहां एक तरफ गुस्सा है तो वहीं दूसरी इस मामले में नए-नए खुलासे हो रहे हैं। अब इस घटना के मुख्य आरोपी संदीप ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। उसने एसपी को एक चिट्टी में लिखा-उसकी पीड़िता से दोस्ती थी, जो उसके परिवार को पसंद नहीं थी। जब इस मामले में उसके घरवालों को पता चला तो मां और भाई ने मिलकर उसके साथ 14 सितंबर के दिन जमकर मारपीट की थी।

इस घटना के पीछे उसके घरवाले जिम्मेदार
दरअसल, आरोपी संदीप ठाकुर हाथरस पुलिस अधीक्षक को एक चिट्टी लिखी है, जिसमें उसने कहा है कि उसे जबरन इस झूठे केस में फंसाया जा रहा है। उसने लिखा कि वह 14 सितंबर के दिन खेत में मृतका से मिलने के लिए गया था। वहां पर उसके भाई और मां भी थीं, लड़की ने मुझे वहां से भेज दिया। में वहां से सीधे घर आ गया। इसके बाद पता चला कि मृतका को उसकी मां और भाई ने जमकर पिटाई की। उसकी मौत के पीछे उसके घरवाले जिम्मेदार हैं। आरोपी ने और तीन अन्य लोगों को निर्दोष बताते हुए पुलिस-प्रशासन और यूपी सरकार से न्याय की गुहार भी लगाई है।

मुख्य आरोपी संदीप ने एसपी को लिखी ये चिट्टी..

यह पूरा मामला ऑनर किलिंग का
संदीप के मुताबिक, जब मैं घर चला गया तो मुझे पता चला कि पीड़िता के साथ उसकी मां और भाई पीटाई कर रहे हैं। इसमें उसको गंभीर चोटें भी आई थीं। जिसके बाद उसकी मौत हो गई।  यह पूरा मामला ऑनर किलिंग का है। ना तो मैंने उसके साथ कोई गलत काम किया और ना ही उसको मारा। आरोपी ने एसपी से लिखी चिट्टी में गुहार लगाते हुए कहा-मामले की सीबीआई जांच के साथ दोनों पक्षों का नार्को टेस्ट होना चाहिए। जिससे पूरा सच सामने आ जाएगा।

 एक साल से पीड़िता के टच में था आरोपी 
पीड़िता और आरोपी का घर करीब 200 मीटर की दूरी पर है। जबकि सीडीआर रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि संदीप ने इस दौरान करीब 62 बार और पीड़िता के भाई की तरफ से करीब 42 बार कॉल की गई है।  बताया जा रहा है कि अक्टूबर 2019 से आरोपी और पीड़िता का परिवार टच में थे। आरोपी संदीप और पीड़िता के भाई के बीच 13 अक्टूबर 2019 से मार्च 2020 तक 104 बार बातचीत हुई। 

पीड़िता के भाई की पत्नी करती थी फोन का इस्तेमाल
मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि पीड़िता के भाई के जिस नंबर की कॉल डिटेल की बात की जा रही है, उसका इस्तेमाल उसकी पत्नी करती थी। वहीं, सोशल मीडिया पर तो पीड़िता द्वारा फोन के इस्तेमाल की बात कही जा रही है। हालांकि, जांच टीम 10 दिन बाद इस मामले में रिपोर्ट सौंपेगी। तभी इस बारे में कुछ कहा जा सकता है।  

क्या है मामला?
हाथरस में 14 सितंबर को कथित गैंगरेप का मामला सामने आया था। दावा किया जा रहा है कि आरोपियों ने युवती की रीढ़ की हड्डी तोड़ दी और उसकी जीभ काट दी। पीड़िता की 29 सितंबर को दिल्ली में इलाज के बाद मौत हो गई। इसके बाद से मामले ने जोर पकड़ लिया। पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया है। हालांकि, पुलिस का कहना है कि दुष्कर्म नहीं हुआ है। सरकार की ओर से सुप्रीम कोर्ट में पेश हलफनामे में भी रेप की बात नहीं की गई है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios