Asianet News Hindi

लखनऊ से अलकायदा के 2 आतंकी पकड़े, भारी मात्रा में मिला गोला-बारूद..कई जगह करने वाले थे बम धमाके

एटीएस ने यह छापेमारी कर लखनऊ के काकोरी इलाके से आतंकवादियों को पकड़ा है। पुलिस मौके पर पहुंचकर आस-पास के घरों को खाली करा रही है। बताया जा रहा है कि घर में भारी मात्रा में बम और बारूद मिलने की संभावना है। 

uttar pradesh news lucknow ats suspect terrorist arrested house in kakori area
Author
Lucknow, First Published Jul 11, 2021, 1:39 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ. एटीएस टीम यूपी की राजधानी लखनऊ में करीब 7 घंटे से सर्च ऑपरेशन चला रही है। इस बड़े ऑपरेशन को अंजाम देते हुए दो संदिग्ध आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है, वहीं पांच अभी फरार बताए जा रहे हैं। एटीएस को एक घर में आतंकवादियों के छुपे होने की जानकारी मिली थी। इसी आधार पर टीम ने छापेमारी की है। मौके पर मौजूद लोगों से पूछताछ जारी है। पुलिस और एटीएस हर ऐंगल से मामले की जांच में जुटी है।

घर में भारी मात्रा में बम और बारूद मिलने की आशंका
दरअसल, एटीएस ने यह छापेमारी कर लखनऊ के काकोरी इलाके से आतंकवादियों को पकड़ा है। पुलिस ने आसपास के 500 मीटर इलाक में बने घरों को खाली करा लिया है। वहीं पूरे इलाके को सील कर दिया गया है। पुलिस को घर के अंदर से सूटकेज में  भारी मात्रा में विस्फोटक सामान बम और बारूद मिले हैं। वहीं  मौके पर बम डिस्पोजल स्क्वाड को भी बुलाया गया है। 

एटीएस कमांडोज ने घर को चारों तरफ से घेरा
बता दें कि यूपी एटीएस को खबर मिली थी कि काकोरी इलाके के एक घर में अलकायदा के आतंकी छिपे हैं, इसके बाद एटीएस कमांडोज ने घर को चारों तरफ से घेरकर वहां छापेमारी की। पकड़े गए दो आंतकियों के अलावा एक एक संदिग्ध को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

पकड़े गए आंतकियों के नाम शाहिद और वसीम
एटीएस ने जिन दो आंतकियों को पकड़ा है उनके नाम शाहिद उर्फ गुड्डू और वसीम बताया जा रहा है। जबकि रियाज और सिराज के घरों में फिलहाल छापेमारी चल रही है। पुलिस सभी से सख्ती के साथ पूछताछ कर रही है। वहीं शाहिद के परिवार वालों से भी पूछाताछ हो रही है। कमांडोज ने उसके घर को सीज कर दिया है। शाहिद उन्नाव का रहने वाला है। 

कई शहरों में सीरियल ब्लास्ट करने की थी प्लानिंग
पुलिस जांच में सामने आया है कि दोनों आतंकी कई शहरों में सीरियल ब्लास्ट करने की प्लानिंग में लगे हुए थे। ये भी बताया जा रहा है कि इन आतिंकियों के निशाने पर कुछ बड़े नेता थे। हालांकि अभी तक इस बारे में एटीएस ने कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी है। लेकिन जल्द ही इस पूरे मामले पर खुलासा हो सकता है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios