Asianet News HindiAsianet News Hindi

सुप्रीम कोर्ट के सामने आग लगाने वाली रेप पीड़िता की मौत, जेल में बंद UP सांसद है आरोपी

उत्तर प्रदेश से एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के सांसद अतुल राय पर रेप के आरोप लगाने वाली युवती की मंगलवार को मौत हो गई। तीन दिन पहले ही उसकी साथी की मौत हुई है।

Uttar Pradesh rape victim who set herself on fire at Supreme Court dies, she accused BSP MP Atul Rai with severe allegations
Author
Mau, First Published Aug 24, 2021, 6:41 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मऊ. उत्तर प्रदेश से एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के सांसद अतुल राय पर रेप का आरोप लगाने वाली युवती की मंगलवार को मौत हो गई। बता दें कि मृतका ने अपने साथी सत्यम प्रकाश राय के साथ 16 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट के सामने आत्मदाह का प्रयास किया था। जिसमें वह करीब 70 फीसदी झुलस चुकी थी। वह पिछले 8 दिन से वेंटिलेटर पर थी, जिंदगी और मौत से जूझ रही थी। वहीं उसके साथी ने तीन दिन पहले ही दम तोड़ दिया था। दोनों को गंभीर हालत में राममनोहर लोहिया अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। लेकिन इसके बाद भी दोनों की जान नहीं बच सकी। युवती के साथ आग लगाने वाला सत्यम ही इस मामले में मुख्य गवाह था।

सोसल मीडिया पर लाइव आकर बयां किया था दर्द
रेप पीड़िता और उसके साथी ने सोशल मीडिया पर कई बार सांसद अतुल राय और उनके समर्थकों पर धमकी देने का आरोप लगाए। उन्होंने ऐसे कई वीडियो वायरल किए हैं, जहां उन्होंने कहा कि सांसद और उनके समर्थकों पर मानसिक रुप से प्रताड़ित कर रहे हैं। इतना ही नहीं पुलिस पर भी कार्रवाई नहीं करने के आरोप लगाए थे। उनक कहना था कि पुलिस और जज मिलकर दोनों को उत्पीड़न कर रहे हैं। जब शिकायत दर्ज कराने पहुंचते हैं तो वह मामले को गंभीरता से नहीं लेते। दोनों ने कहा कि हम सरकारी तंत्र से बुरी तरह परेशान हो चुके हैं। सांसद अतुल राय जेल में बंद होकर भी अपने पावर का इस्तेमाल कर हमें प्रताड़ित करवा रहा है। इसलिए हम अपने आप को अदालत के सामने आग लगाने पर मजबूर हो गए हैं।

युवती के खिलाफ जारी हो चुका था वारंट
कुछ दिन पहले ही वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस ने पीडि़ता के खिलाफ धोखाधड़ी मामले में गैर जमानती वारंट जारी किया था। लाइव वीडियो में पीडि़ता और उसके साथी ने वाराणसी पुलिस के अफसरों और न्याय व्यवस्था को जमकर कोसा था। पीडि़ता ने व्यवस्था से परेशान होकर आत्मदाह जैसा घातक कदम उठाने की बात कही गई थी। 

यह है पूरा मामला
बता दें कि दो साल पहले लोकसभा चुनाव के दौरान इस मामले की शुरूआत हुई थी। जहां घोसी संसदीय सीट से बसपा के उम्मीदवार और गाजीपुर के रहने वाले अतुल राय चुनावी मैदान में उतरे थे। इसी दौरान युवती ने वाराणसी के लंका थाने में अतुल राय के खिलाफ रेप का मामला दर्ज कराया था। युवती का आरोप था कि अतुल राय ने सात मार्च 2018 को उसे लंका स्थित अपने फ्लैट में पत्नी से मिलाने के बहाने बुलाया था। वहां पहुंचने पर उसके साथ दुष्कर्म किया गया और अश्लील वीडियो भी बना लिया गया। जब पुलिस ने मामला दर्ज किया तो सांसद  पुलिस गिरफ्त से दूर भूमिगत हो गए थे। हालांकि बाद में चुनाव जीतने के बाद उन्होंने कोर्ट के सामने सरेंडर कर दिया था। जिसके बाद से उन्हें जेल भेज दिया गया। फिलहाल अतुल राय दो साल से जेल में सजा काट रहे हैं।

महामंत्री पद का चुनाव का चुनाव लड़ की चुकी थी मृतका
रेप पीड़िता मूल रुप से बलिया जिले की रहने वाली है। वह साल 2015 में वाराणसी के कॉलेज में छात्र संघ का चुनाव लड़ चुकी है। इसी दौरान उसकी पहचान साथी सत्यम प्रकाश राय से हुई थी। सत्यम कॉलेज के छात्रसंघ के पदाधिकारी रह चुके हैं। इसके बाद दोनों लगातार सांसद अतुल राय के खिलाफ विरोध करते थे।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios