Asianet News HindiAsianet News Hindi

वाराणसी: देव-दीपावली पर टूटी फुटओवर ब्रिज की रेलिंग, दर्जन भर लोग हुए घायल, जानिए हादसे के पीछे का कारण

यूपी के काशी में देव दीपावली के अवसर पर काशी रेलवे स्टेशन मार्ग को जोड़ने वाली फुटओवर ब्रिज की रेलिंग टूटने बड़ा हादसा हो गया। दर्जन भर लोग इस हादसे में घायल हो गए हैं। बता दें कि जर्जर हो चुकी रेलिंग को जगह-जगह पर रस्सी के सहारे बांधा गया है।

Varanasi Railing of foot over bridge broken on Dev Deepawali a dozen people injured know reason behind accident
Author
First Published Nov 8, 2022, 2:02 PM IST

वाराणसी: उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले में देव दीपावली के उल्लास के बीच एक बड़ा हादसा हो गया। काशी रेलवे स्टेशन मार्ग को जोड़ने वाली फुटओवर ब्रिज की रेलिंग टूट गई। सोमवार को देव दीपावली के मौके पर फुटओवर ब्रिज की रेलिंग पर अधिक भीड़ होने के कारण यह हादसा हुआ है। वहीं देव दीपावली की ड्यूटी में तैनात पुलिसकर्मियों ने आनन-फानन में सभी घायलों को इलाज के लिए मंडलीय अस्पताल सहित आसपास के निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। इसके बाद फुटओवर ब्रिज पर एतिहात के तौर पर यातायात को बंद कराया गया।

लोगों का भार नहीं झेल पायी रेलिंग
बता दें कि देव दीपावली के चलते सोमवार शाम से ही घाटों पर घूमने वालों की भीड़ बढ़ती चली गई। इस दौरान घाटों की ओर पैदल आने वाले लोग मालवीय पुल के फुटओवर ब्रिज से होकर जा रहे थे। इस बीच रात करीब 8 बजे के आसपास काशी रेलवे स्टेशन की तरफ उतरने वाली रेलिंग पर ज्यादा भीड़ बढ़ने का लोड झेल नहीं पाई। इस कारण से वह टूट गई। बता दें कि इस हादसे में करीब दर्जन भर से अधिक लोग तीन फिट नीचे जमीन में जा गिरे। अचानक हुए इस हादसे के बाद से वहां पर हड़कंप मच गया। बताया जा रहा है कि घायलों में अधिकतर मुगलसराय, पड़ाव, डोमरी, सेमरा और सूजाबाद क्षेत्र के रहने वाले थे। 

घायलों को अस्पताल में कराया गया भर्ती
इस दौरान ड्यूटी पर तैनात आदमपुर चौकी पर तैनात हेड कांस्टेबल राकेश सिंह और विजय गुप्ता ने मौके पर भगदड़ की स्थिति को नियंत्रण में किया। वहीं पुलिसकर्मियों की मदद से एंबुलेंस और निजी वाहनों से घायलों को अस्पताल ले जाया गया। बता दें कि घायलों का इलाज सरकारी खर्चे से किया जा रहा है। वहीं मंडलायुक्त कौशलराज शर्मा, सीएमओ डा. संदीप चौधरी व डीसीपी काशी जोन आरएस गौतम घायलों से मिलने के लिए अस्पताल पहुंचे। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, जर्जर हो चुकी रेलिंग को जगह-जगह पर लकड़ी के टुकड़ों और रस्सियों से बांधा गया है।

वाराणसी पहुंचे रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव,135 साल पुराने पुल की जगह गंगा पर बनेगा नया पुल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios