Asianet News HindiAsianet News Hindi

CAA को लेकर उग्र हुए प्रदर्शनकारियों ने बस में लगाई आग, डीजीपी की अपील- बच्चों को प्रदर्शन में न जाने दें

यूपी में धारा 144 लागू होने के बावजूद नागरिकता कानून को लेकर कई जिलों में विरोध प्रदर्शन जारी है। गुरुवार को संभल जिले में प्रदर्शनकारी उग्र हो गए। उप्रदवियों ने सदर इलाके में रोडवेज बसों में आगजनी की। पुलिस व प्रशासन की कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई। पुलिस ने लाठीचार्ज कर उपद्रवियों को खदेड़ा।

violent protest against caa in sambhal KPU
Author
Sambhal, First Published Dec 19, 2019, 2:23 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

संभल (Uttar Pradesh). यूपी में धारा 144 लागू होने के बावजूद नागरिकता कानून को लेकर कई जिलों में विरोध प्रदर्शन जारी है। गुरुवार को संभल जिले में प्रदर्शनकारी उग्र हो गए। उप्रदवियों ने सदर इलाके में रोडवेज बसों में आगजनी की। पुलिस व प्रशासन की कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई। पुलिस ने लाठीचार्ज कर उपद्रवियों को खदेड़ा। आंसू गैस के गोले दागे। हालात तनावपूर्ण है। भीड़ ने मीडिया कर्मियों को भी निशाना बनाया। कई लोगों के घायल होने की सूचना है। 

CAA का विरोध कर रहे 62 लोग गिरफ्तार
बता दें, नागरिकता संशोधन कानून को लेकर यूपी में कई संगठनों ने गुरुवार को विरोध प्रदर्शन का ऐलान किया है। सपा ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके प्रदेश व्यापी धरना प्रदर्शन का आह्वान किया है। पार्टी कार्यालयों पर प्रदर्शन हो रहे हैं। इसी को देखते हुए पूरे यूपी में धारा 144 लागू की गई है। डीजीपी ओपी सिंह ने बताया, मेरठ में आपत्तिजनक पर्चे बांटने वाले 3 लोगों सहित बुधवार रात 62 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मेरठ, अलीगढ़, मऊ, वाराणसी, प्रयागराज और अलीगढ़ जैसे शहरों से 62 लोगों को गिरफ्तार किया है। तीन हजार लोगों को शांतिभंग में पाबंद किया गया है। संवेदनशील इलाकों में आरपीएफ, पीएसी, क्विक रिस्पांस टीमें तैनात हैं। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पर्याप्त बल तैनात किए गए हैं। कानून व्यवस्था तोड़ने पर सख्त कार्रवाई होगी। 

पैरेंट्स अपने बच्चों को कहीं भी जाने न दें
डीजीपी ने ट्वीट कर कहा, पूरे यूपी में धारा 144 लागू है। 19 दिसंबर को किसी भी प्रकार के प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी गई है। मैं सभी अभिभावकों से अपील करूंगा कि वे इस दिन अपने बच्‍चों को कहीं भी जाने के लिए प्रेरित न करें। उन्‍हें प्रदर्शन में जाने से मना करें, नहीं तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

लखनऊ में धरने पर बैठे सपा विधायक 
गुरुवार को यूपी विधानमंडल के शीतकालीन सत्र के तीसरे दिन शुरुआत से पहले ही सपा विधायक विधानसभा के बाहर चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के पास धरने पर बैठ गए। वहीं, सपा एमएलसी राजेश यादव विधानसभा के गेट पर चढ़कर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते दिखे। उन्होंने योगी बाबा मस्त-प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त है, जैसे नारे लगाए। पार्टी के मुताबिक, नागरिकता कानून, प्रदेश में बेटियों पर बढ़ते अत्याचार, प्रदेश सरकार की किसान विरोध नीति, बदहाल स्वास्थ्य और शिक्षा व्यवस्था, बढ़ती बेरोजगारी और कमरतोड़ महंगाई के मुद्दे को लेकर प्रदर्शन की तैयारी है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios