Asianet News HindiAsianet News Hindi

UP News: बदलने जा रहा है यमुना एक्सप्रेसवे का नाम, अब पूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी के नाम से म‍िलेगी नई पहचान

जेवर एयरपोर्ट के शिलान्यास के दिन यहां एक बड़ी रैली का आयोजन भी किया गया है। पीएम मोदी रैली में जनसभा को संबोधित करेंगे। 

yamuna express way rename to atal bihari vajpayee
Author
Noida, First Published Nov 23, 2021, 9:59 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नोएडा/लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश में नाम बदलने का सिलसिला जारी है, इसी क्रम में यमुना एक्सप्रेसवे का नाम बदलकर अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर करने की तैयारी है। आपको बता दें नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास 25 नवंबर को होने जा रहा है। इसी दिन यमुना एक्सप्रेसवे के नाम बदलने का ऐलान होने जा रहा है। 

25 साल का इंतजार होगा खत्‍म
नोएडा के जेवर में एशिया का सबसे बड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाया जाएगा। इसी के साथ 25 वर्षों का इंतजार खत्म होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एयरपोर्ट की आधारशिला रखेंगे। शिलान्यास कार्यक्रम को लेकर प्रशासन ने तैयारी शुरू कर दी है।

जनसभा में होगा ऐलान
जेवर एयरपोर्ट के शिलान्यास के दिन यहां एक बड़ी रैली का आयोजन भी किया गया है। पीएम मोदी रैली में जनसभा को संबोधित करेंगे। सूत्रों की मानें तो इस दिन पीएम यमुना एक्सप्रेसवे का नाम बदलकर भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर करने का ऐलान करेंगे।

यूपी विधानसभा से पहले बड़ा दांव
यूपी में अगले साल विधानसभा चुनाव हैं। चुनाव से पहले यमुना एक्सप्रेसवे का नाम बदलकर पूर्व पीएम अटल बिहारी के नाम पर करना, बीजेपी का बड़ा दांव होगा। बताया जा रहा है कि यमुना एक्सप्रेसवे का नाम बदलने को लेकर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ और पीएम मोदी की चर्चा हो चुकी है, अब जनसभा में इसका ऐलान किया जाएगा।

मायावती के कार्यकाल में शुरू हुआ था काम 
मायावती 2007 में जब फिर मुख्यमंत्री बनीं तो ताज एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य फिर शुरू हुआ। बाद में इसका नाम बदलकर यमुना एक्सप्रेस-वे कर दिया गया। बसपा ने 2012 के चुनाव में इसे अपनी उपलब्धियों में शामिल किया था। अब बीजेपी इसका नाम बदलकर अटल बिहारी वाजपेयी यमुना एक्सप्रेस-वे करने जा रही हैं।

बीजेपी का चुनावी दांव 
यमुना एक्सप्रेसवे का नाम अटल बिहारी के नाम पर करना बीजेपी का चुनावी दांव है। अटल बिहारी का एक ऐसा फेस था जिन्हें पक्ष और विपक्ष सभी पसंद करते थे। वह कभी विवादित नहीं रहे। वाजपेयी ब्राह्मण थे। यूपी में इस बार ब्राह्मण बीजेपी से नाराज बताया जा रहा है। यूपी में नाराज ब्राह्मणों को साधने के लिए भी बीजेपी का यह दांव माना जा रहा है।

यमुना एक्सप्रेस वे की क्या है खासियत,जहां गाड़ियों को रोककर कराई गई विमान की इमरजेंसी लैंडिंग

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios