Asianet News HindiAsianet News Hindi

जानें दुनिया में सबसे गर्म स्थान कहां हैं?

पूरी दुनिया बढ़ते टेम्परेचर से परेशान है। दुनिया के जिन हिस्सों में पहले ज्यादा गर्मी नहीं पड़ती थी, अब वहां भी लोग गर्मी से परेशान दिखने लगे हैं। जानते हैं दुनिया की उन जगहों के बारे में जहां सबसे ज्यादा गर्मी पड़ती है।   

Know where is the hottest place in the world?
Author
London, First Published Aug 27, 2019, 11:03 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लंदन। अभी यूनाइडेट किंगडम में बहुत ज्यादा गर्मी पड़ रही है। लोगों का कहना है कि ऐसी गर्मी पहले शायद ही देखी गई हो, लेकिन फिर भी दुनिया में इससे भी गर्म स्थान रहे हैं। अभी यह माना जा रहा है कि अमेरिका की डेथ वैली में सबसे ज्यादा गर्मी पड़ रही है। जानते हैं दुनिया की उन 10 जगहों के बारे में जहां पिछली सदी और आज भी सबसे ज्यादा टेम्परेचर दर्ज किया गया। 

डेथ वैली, कैलिफोर्निया, संयुक्त राज्य अमेरिका
अमेरिका की डेथ वैली को अभी दुनिया की सबसे गर्म जगह माना जा रहा है। 1913 की गर्मियों में इस रेगिस्तानी घाटी का ताममान 56.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।  जुलाई, 2018 में भी यहां रिकॉर्ड सबसे ज्यादा टेम्परचर दर्ज किया गया। पूरे महीने का औसत रोज का तापमान यहां 42.3 डिग्री सेल्सियस था। नेशनल पार्क सर्विस विजिटर सेंटर के डेथ वैली स्टेशन ने 2017 में वर्ल्ड रिकॉर्ड मंथली टेम्परेचर 41.8  डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 2018 में डेथ वैली के फर्नेस क्रीक विजिटर सेंटर में 42.3  डिग्री सेल्सियस  मासिक औसत तापमान दर्ज किया गया था। 

एल अजीजिया, लीबिया
एक समय माना जाता था कि 1922 में यहां का तापमान 58 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, हालांकि मौसम वैज्ञानिकों ने इसे अमान्य घोषित कर दिया था। यहां के जाफरा जिले में अभी भी 48 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान रहता है।

डॉलोल, इथियोपिया
साल 1960 और 1966 के बीच यहां 41 डिग्री सेलिसियस दैनिक औसत तापमान  था। यह पृथ्वी पर किसी भी स्थान का उच्चतम औसत तापमान है।

वादी हलफा, सूडान
अप्रैल 1967 में नूबिया झील के तट के पास शहर में दर्ज किया गया सबसे अधिक तापमान 53 डिग्री सेल्सियस रहा।

दश्त-ए लुट, ईरान
साल 2003 और 2009 के बीच उपग्रह से यहां का अधिकतम तापमान 70.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

तिरत जवी, इजरायल
1942 में  यहां 54 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया था। औसत तापमान अभी भी 37 डिग्री सेल्सियस है।

टिम्बकटू, माली
यह शहर सहारा के दक्षिणी किनारे पर स्थित है और नाइजर नदी के उत्तर में लगभग आठ मील की दूरी पर है। यहां सबसे अधिक तापमान दर्ज किया गया 49 डिग्री सेल्सियस।

केबिली, ट्यूनीशिया
यहां सबसे ज्यादा तापमान  55 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। औसत तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा पाया गया। 

गदामेश, ​​लीबिया
यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर घोषित इस स्थान का औसत तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से लेकर 55 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

बंदर-ए-महशहर, ईरान
हीट इंडेक्स के अनुसार, 2015  में इस  शहर में दर्ज उच्चतम तापमान 51 डिग्री सेल्सियस था। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios