Asianet News HindiAsianet News Hindi

रहस्य बन कर रह गई इस हॉलीवुड एक्ट्रेस की मौत, घटनास्थल पर मिला था सिर्फ एक चश्मा

आज रोमन पोलैंस्की का जन्मदिन है। इनका जन्म 18 अगस्त, 1933 को पेरिस में हुआ था। फ्रेंच-पोलिश मूल के रोमन पोलैंस्की को ऑस्कर सहित सिनेमा के सभी बड़े पुरस्कार मिले। उन्हें बीसवीं शताब्दी के सबसे मशहूर और प्रतिभावान निर्देशकों में गिना जाता है। उनकी पत्नी मशहूर एक्ट्रेस शैरन टैट की हत्या कर दी गई। यह मर्डर मिस्ट्री आज तक नहीं सुलझ सकी। 

The Hollywood actress died as a mystery, only one of the glasses was found at the scene
Author
Hollywood, First Published Aug 18, 2019, 11:30 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

1969 में अमेरिका के मशहूर बेवर्ली हिल्स में एक घर में पांच लोगों की क्रूरतापूर्ण हत्या कर दी गयी थी। इनमें मशहूर एक्ट्रेस शैरन टेट भी थीं। मौके पर पुलिस को एक चश्मा मिला जो हत्यारे का हो सकता था। जब मशहूर फिल्म डायरेक्टर रोमन पोलैंस्की को इस हत्याकांड की खबर मिली, वे लंदन में थे। शेरन टेट उनकी पत्नी थीं। वे वापस अमेरिका लौटे, लेकिन महीनों तक मर्डर केस सुलझ नहीं सका। इस हत्या से गहरे प्रभावित हुए रोमन पोलैंस्की ने चश्मों के लेंस नापने का यंत्र तक खरीदा, ताकि वे घटनास्थल पर मिले सिर्फ एक ही सुबूत की भली-भांति जांच सकें।

ब्रूस ली से लेने लगे ट्रेनिंग
उन्हीं दिनों रोमन पोलैंस्की ने ब्रूस ली से ट्रेनिंग लेना शुरू कर दिया। ब्रूस ली फाइटिंग सिखाने के एक घंटे के सेशन के  एक हजार डॉलर लिया करते थे। एक बार ऐसे ही एक ट्रेनिंग सेशन के दौरान ब्रूस ली की किसी बात से रोमन पोलैंस्की को यह लगा कि उनकी पत्नी से ब्रूस ली के गलत संबंध थे और किसी वजह से उनकी पत्नी की हत्या ब्रूस ली ने ही की थी। यह अलग बात है कि बाद में साबित हुआ कि यह हत्या चार्ल्स मेन्सन के अनुयायियों ने की थी।

ब्रूस ली और शेरन टेट पर बनी फिल्म
बहरहाल, ब्रूस ली और शेरन टेट के कथित संबंधों की चर्चा पूरे हॉलीवुड में होने लगी। बाद में एक मशहूर फिल्म डायरेक्टर केंटिन तारान्तिनो ने इसे लेकर एक फिल्म ‘वंस अपॉन अ टाइम इन हॉलीवुड’बनाई। इस फिल्म में ब्रूस ली और शेरन टेट के संबंधों को दिखाने की कोशिश की गयी है।

रोमन पोलैंस्की को जाना पड़ा जेल
1977 में रोमन पोलैंस्की पर 13 साल की एक बच्ची के साथ यौन संबंध बनाने का आरोप लगा, जिसके लिए उन्हें जेल हुई। 42 दिन जेल में रहने के बाद उन्हें जमानत पर छोड़ा गया। इस दौरान कई तरह के कानूनी दांवपेच खेले जा चुके थे और पोलैंस्की को पता चल गया कि जो जज उन्हें कम सजा देने के लिए तैयार था,  उसका मन बदल चुका है। वे अमेरिका से भाग कर पहले लंदन और बाद में फ्रांस चले गए। फ्रांस के नियमों के मुताबिक़, उन्हें अमेरिका को सुपुर्द नहीं किया जा सकता.था।  फिलहाल, उन पर लगे आरोप अब भी खत्म नहीं हुए हैं। लेकिन इस दौरान एक से एक क्लासिक फ़िल्में बनाई। 


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios