मुंबई। महाराष्ट्र के बीड जिले की एक महिला 20वीं बार प्रेग्नेंट हुई है। 38 साल की इस महिला के पहले से 11 बच्चे हैं। महिला 38 साल की है। अभी वह सात महीने की गर्भवती है। जब महिला के प्रेग्नेंट होने की जानकारी मिली तो उसे बीड के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया।  वहां डॉक्टरों ने महिला की हर तरह की जांच की है।

क्या कहा बीड के सिविल सर्जन ने
बीड जिले के सिविल सर्जन डॉ. अशोक थोराट ने कहा कि महिला स्वस्थ है। उसके स्वास्थ्य की पूरी जांच की गई है और संक्रमण न हो, इसके लिए दवाइयां दी गई हैं। उसे पौष्टिक भोजन करने और जरूरी सावधानियां बरतने की भी हिदायत दी गई है। 

सरकारी अस्पताल में देगी बच्चे को जन्म
सिविल सर्जन ने कहा कि महिला को बच्चे को जन्म देने के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती होने की सलाह दी। जानकारी के लिए बता दें कि अब तक उस महिला के जितने बच्चे हुए हैं, सब घर में ही हुए हैं। 

घुंमतु समुदाय की है महिला
महिला घुमंतू गोपाल समुदाय की है। यह समुदाय अमूमन भीख मांगने और मजदूरी करने का काम करता है। यह एक जगह टिक कर नहीं रहता। इस समुदाय में लड़कियों की बहुत कम उम्र में ही शादी हो जाती है। इनमें शिक्षा का एकदम अभाव है। इस समुदाय के पुरुष भी मजदूरी करते हैं। फिलहाल, महिला बीड जिले के मजलगांव तहसील के केसापुरी इलाके में रह रही है। महिला का नाम लंकाबाई खराट है।

 जागरूकता फैलाने की है जरूरत 
इसे लेकर इलाके के सामाजिक कार्यकर्ताओं का कहना है कि इन घुमंतू समुदायों को स्थाई रूप से रोजगार दिलाने की जरूरत है, ताकि ये टिक कर एक जगह रह सकें। साथ ही, इनमें  शिक्षा का प्रसार करने की भी जरूरत है। इसके लिए सरकारी एजेंसियों के साथ ही स्वयंसेवी संस्थाओं को भी सामने आना चाहिए। जब तक इनकी आर्थिक हालत में सुधार नहीं आएगा, ये जागरूक नहीं हो सकेंगे। अमूमन ये देखा गया है कि इस तरह के घुमंतू समुदायों की महिलाओं को बहुत बच्चे होते हैं और इससे उनका स्वास्थ्य प्रभावित होता है।