5 दिन के भारत दौरे पर पहुंचे स्वीडन के राजा, खुद उठाया अपना बैग
स्वीडन के राजा और रानी 5 दिवसीय भारत  दौरे पर पहुंचे हैं। दोनों एयर इंडिया की फ्लाइट से आए। एयरपोर्ट पर राजा द्वारा अपना बैग खुद उठाए जाने की आज सोशल मीडिया पर काफी तारीफ हो रही है। किसी देश के राजा द्वारा अपना बैग खुद उठाया जाना लोगों का दिल जीत रहा है। बता दें कि भारत में दोनों राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और पीएम मोदी से मुलाक़ात करेंगे। राजा-रानी को दिल्ली एयरपोर्ट पर रिसीव करने पार्लियामेंट सदस्य बाबुल सुप्रियो पहुंचे थे।

बॉडी शेमिंग के खिलाफ मुहीम, प्लस साइज होकर भी किया जबरदस्त डांस
बॉडी शेमिंग के जरिये अक्सर लोग मोटापे से ग्रसित लोगों का मजाक बनाते हैं। उनका कॉन्फिडेंस कम हो जाता है। कई लोग तो बाहर निकलना बंद कर देते हैं। लेकिन अमेरिका के रहने वाले एरिक कावेंनौग ने अपने लिविंग रूम में जबरदस्त डांस कर इसका करारा जवाब दिया है। एरिक को भी मोटापे के कारण काफी आलोचना झेलनी पड़ी थी। लेकिन अब इस वीडियो के जरिये वो लोगों के अंदर कॉन्फिडेंस भरने का काम कर रहे हैं।

20 परिवारों ने गोद लेने से किया था इंकार, अब शख्स अकेले रख रहा बच्ची का ध्यान
दुनिया में कई लोग हैं जो बच्चों को गोद लेते हैं। लेकिन इसमें भी ज्यादातर लोग गोरे और स्वस्थ बच्चों को प्रेफरेंस देते हैं। लेकिन इटली के रहने वाले लुका तरपनेसे ने एल्बा को गोद लेने का फैसला किया जो डाउन सिंड्रोम से पीड़ित हैं। मात्र 13 दिन की एल्बा को 20 परिवारों ने गोद लेने से इंकार कर दिया था। इसके बाद लुका ने उन्हें गोद लेकर पिता का प्यार दिया। आज एल्बा अपने सिंगल फादर ले साथ काफी खुश हैं।  

प्याज को दी गई श्रद्धांजलि, करवाया गया भोज
भारत में प्याज की बढ़ती कीमतों ने सभी को परेशान कर रखा है। कहीं प्याज चोरी की घटना सामने आ रही है तो कहीं होटल्स के मेन्यू कार्ड से अनियन डोसा गायब हो रहा है। अब ताजा मामला बिहार के मुजफ्फरपुर से सामने आया है जहां लोगों ने प्याज की बढ़ती कीमतों को देखकर विरोध प्रदर्शन किया। इसमें उन्होंने प्याज को श्रद्धांजलि दी। दीवार पर टंगी प्याज की तस्वीर पर फूल-माला चढ़ाया गया। लोगों का कहना है कि प्याज की बढ़ी कीमत ने आम जनता को परेशान कर रखा है।  

अपने पैरों को स्लिम दिखाना चाहती थी महिला, लाखों खर्च कर हुआ खौफनाक हाल
इंग्लैंड में रहने वाली जैनी नॉक्सीमेंटो आज जिंदगी से जंग लड़ रही हैं। उन्हें अपने पैरों को स्लिम बनाना था। इसके लिए उन्होंने लाखों रूपये खर्च भी किये। लेकिन इस सर्जरी का उल्टा ही असर हो गया। जैनी के पैरों में स्किन ईटिंग बक्टेरिया ने हमला कर दिया,, जिसके कारण उनके पैर सड़ने लगे। जैनी मौत की दहलीज तक पहुँच गई थी। इस सर्जरी के बाद तीन महीने तक जैनी अपने पैरों पर खड़ी नहीं हो पाई थी।  उन्हें जॉब तक छोड़नी पड़ी। अब जाकर वो दुबारा चलना सीख रही हैं