कोलकाता, पश्चिम बंगाल. विधानसभा चुनावों को लेकर यहां राजनीतिक घमासान मचा हुआ है। इस दौरान हिंसा की लगातार खबरें आ रही हैं। हालांकि यहां चुनावी हिंसा का पुराना इतिहास रहा है, लेकिन इस बार भाजपा इस मुद्दे पर काफी मुखर है। बुधवार को बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष के काफिले पर हमले के बाद भाजपा ने TMC पर उसके 146 कार्यकर्ताओं की हत्या का आरोप लगाया है। चुनाव आयोग में शिकायत करने पहुंचे पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता युवा मोर्चा(BJYM) के अध्यक्ष सौमित्र खान ने आरोप लगाया-'TMC ने 146 भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की है। हमारे नेता दिलीप घोष पर हमला हुआ और उनकी हत्या करने की कोशिश की गई। हमारी मांग है कि रोहिंग्या और TMC के हत्यारों की गिरफ्तारी होनी चाहिए।'

कार पर बम फेंकने का आरोप
दिलीप घोष पर बुधवार को उस समय हमला हुआ था, जब उनका काफिला कूचबिहार के सितलकूकी क्षेत्र से गुजर रहा था। दिलीप घोष ने इस घटना की तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा-पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र की स्थिति दयनीय है। टीएमसी के गुंडों ने मेरी कार पर बम फेंके और शीशे तोड़ दिए। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी पीछे हटते देखे गए।

 

 

यह भी जानें
बता दें कि यहां चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को वोटिंग होगी। बंगाल में अभी 5 चरणों की वोटिंग बची है। पश्चिम बंगाल में पहले चरण में  294 में से 30 सीटों पर 27 मार्च, दूसरे चरण में 30 सीटों पर एक अप्रैल और तीसरे चरण में 31 सीटों पर 6 अप्रैल को वोटिंग हो चुकी है। चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को, पांचवे चरण में 45 सीटों पर 17 अप्रैल को, छठे चरण में 43 सीटों पर 22 अप्रैल को, सातवें चरण में 36 सीटों पर 26 अप्रैल को और आठवें चरण में 35 सीटों पर 29 अप्रैल को वोटिंग होगी।