कोलकाता, पश्चिम बंगाल. पांच राज्यों में से तमिलनाडु,केरल, पुडुचेरी और असम में वोटिंग हो चुकी है। पश्चिम बंगाल में भी तीन चरणों में वोटिंग हो गई है। अब यहां 5 चरण और बचे हैं। यानी सारा चुनावी दंगल अब बंगाल में सिमटकर रह गया है। पश्चिम बंगाल में हो रहे विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को वोटिंग होगी। यहां तीन चरणों का चुनाव हो चुका है। अब 5 चरण बाकी है। पश्चिम बंगाल का चुनाव देश की राजनीति में एक निर्णायक मोड़ साबित हो सकता है। यहां पिछले 10 साल से ममता बनर्जी सत्ता पर काबिज हैं, लेकिन इस बार उन्हें भाजपा से कड़ी चुनौती मिली है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा गुरुवार को यहां तीन रोड शो करने पहुंचे। 

नड्डा ने कहा

  • दिलीप घोष के काफिले पर हुए हमले पर कहा-ये दुर्भाग्यपूर्ण है, ममता जी के राज में TMC के गुंडों ने ये ही किया है। हमारे 140 से ज़्यादा लोग हताहत हुए हैं, ममता जी ने ये यहां की संस्कृति बना दी है। बीजेपी 200 पार और ममता जी का खेला शेष हो चुका है।
  • पश्चिम बंगाल में ऐसी कोई जगह शेष नहीं है, जहां जनता तुष्टिकरण, टोलाबाजी और कटमनी की तृणमूल कांग्रेस की सरकार से त्रस्त न हो।
  • मानव तस्करी, रेप, एसिड अटैक और महिलाओं पर अत्याचार में बंगाल नंबर 1 पर है। कोरोना के समय PM ने चावल, दाल, और गेहूं भेजा। यह अनाज TMC कार्यकर्ताओं के घर में मिला। ये लोग अम्फान का पैसा खा गए, इन्हें घर बैठाना है।

यह भी जानें
बता दें कि यहां चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को वोटिंग होगी। बंगाल में अभी 5 चरणों की वोटिंग बची है। पश्चिम बंगाल में पहले चरण में  294 में से 30 सीटों पर 27 मार्च, दूसरे चरण में 30 सीटों पर एक अप्रैल और तीसरे चरण में 31 सीटों पर 6 अप्रैल को वोटिंग हो चुकी है। चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को, पांचवे चरण में 45 सीटों पर 17 अप्रैल को, छठे चरण में 43 सीटों पर 22 अप्रैल को, सातवें चरण में 36 सीटों पर 26 अप्रैल को और आठवें चरण में 35 सीटों पर 29 अप्रैल को वोटिंग होगी।