Asianet News Hindi

West Bengal Election: ममता बनर्जी के घायल होने के मामले में तीन अफसरों पर गिरी गाज

10 मार्च को नंदीग्राम में नामांकन भरने के दौरान घायल हुईं ममता बनर्जी के मामले में चुनाव आयोग ने तीन अफसरों को हटा दिया है। तृणमूल कांग्रेस बार-बार दुहरा रही थी कि ममता बनर्जी पर हमला हुआ है, लेकिन आयोग की जांच में ऐसे कोई सबूत नहीं मिले, जिससे साबित हो कि यह हमला था। 

West Bengal election, Mamta accident case, action against three officers kpa
Author
Kolkata, First Published Mar 14, 2021, 6:10 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोलकाता, पश्चिम बंगाल. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के घायल होने के मामले में चली आ रही राजनीति में नया मोड़ सामने आया है। चुनाव आयोग अपनी जांच में पहले ही यह कह चुका था कि यह महज एक हादसा था। अब चुनाव आयोग ने निदेशक सुरक्षा विवेक सहाय को निलंबित कर दिया है। वहीं, लापरवाही बरतने पर कलेक्टर और एसपी को भी हटा दिया है। बता दें कि 10 मार्च को नंदीग्राम में नामांकन भरने के दौरान ममता बनर्जी घायल हुई थीं। आयोग की जांच में सामने आया था कि भीड़ के चलते उनका पैर गाड़ी के गेट से टकरा गया था। तृणमूल कांग्रेस बार-बार दुहरा रही थी कि ममता बनर्जी पर हमला हुआ है, लेकिन आयोग की जांच में ऐसे कोई सबूत नहीं मिले, जिससे साबित हो कि यह हमला था। 

यह भी जानें

बता दें कि चुनाव आयोग की बैठक में राज्य के मुख्य सचिव और डीजीपी की उच्चस्तरीय समिति बनाई गई है। मामले की जांच के बाद जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। जांच में सामने आया है कि सिक्योरिटी डायरेक्टर विवेक सहाय का रवैया गैर जिम्मेदाराना नजर आया था। वे खुद बुलेटफ्रूफ गाड़ी में घूमते हैं, जबकि ममता आम वाहन में नजर आती हैं।
तृणमूल इसे सुनियोजित हमला बता रहा है, तो भाजपा ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर घटनास्थल का वीडियो फुटेज जारी करने की मांग की थी, ताकि सच सामने आ सके। दरअसल, भाजपा इसे ममता का ड्रामा बता रही है। ममता बनर्जी ने 14 मार्च तक के तमाम कार्यक्रम रद्द कर दिए थे, लेकिन बाद में ममता बनर्जी ने हॉस्पिटल से अपने समर्थकों के लिए एक वीडियो संदेश दिया है। उन्होंने कहा था कि वे व्हीलचेयर पर आकर चुनाव प्रचार करेंगी। उन्होंने ऐसा किया भी। रविवार को वे व्हीलचेयर पर रोड शो करने निकलीं।

जानें कब चुनाव
बता दें कि बंगाल की 294 सीटों के लिए 8 चरणों में वोटिंग होगी। पहले चरण में  294 में से 30 सीटों पर 27 मार्च को वोट डाले जाएंगे। दूसरे चरण में 30 सीटों पर एक अप्रैल को, तीसरे चरण में 31 सीटों पर 6 अप्रैल को, चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को, पांचवे चरण में 45 सीटों पर 17 अप्रैल को, छठे चरण में 43 सीटों पर 22 अप्रैल को, सातवें चरण में 36 सीटों पर 26 अप्रैल को और आठवें चरण में 35 सीटों पर 29 अप्रैल को वोटिंग होगी।

 

 

 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios