Asianet News Hindi

BJP का संकल्प पत्र : महिलाओं को नौकरियों में 33% आरक्षण, हर साल किसानों को 10000-मछुआरों को 6000 रु

प बंगाल में विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने रविवार को घोषणापत्र जारी कर दिया। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इस दौरान कहा कि संकल्प पत्र में सिर्फ घोषणाएं नहीं हैं, बल्कि ये दुनिया के सबसे बड़े दल का संकल्प है। ये संकल्प है देश में 16 से ज्यादा राज्यों में जिसकी सरकार है उस पार्टी का, ये दो बार पूर्ण बहुमत से बनी सरकार का संकल्प है।

West Bengal Elections Amit Shah released bjp Sankalp Patra KPP
Author
Kolkata, First Published Mar 21, 2021, 6:30 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोलकाता. प बंगाल में विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने रविवार को घोषणापत्र जारी कर दिया। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इस दौरान कहा कि संकल्प पत्र में सिर्फ घोषणाएं नहीं हैं, बल्कि ये दुनिया के सबसे बड़े दल का संकल्प है। ये संकल्प है देश में 16 से ज्यादा राज्यों में जिसकी सरकार है उस पार्टी का, ये दो बार पूर्ण बहुमत से बनी सरकार का संकल्प है।

भाजपा के घोषणापत्र में हुए ये ऐलान

- महिलाओं/छात्रों के लिए

  • राज्य सरकार की सभी नौकरियों में महिलाओं को 33% आरक्षण। इसके अलावा सभी बेटियों के लिए KG से PG तक की पढ़ाई निशुल्क होगी। पब्लिक ट्रांसपोर्ट में सभी महिलाओं के लिए निशुल्क यात्रा की व्यवस्था होगी। विधवा पेंशन 3 हजार रुपए प्रति महीना की जाएगी। दलित और पिछड़े वर्ग की छात्राओं को मदद दी जाएगी। 6वीं कक्षा में 3 हजार, 9वीं में 5 हजार रुपए मिलेंगे।
  • महिला सुरक्षा के लिए 9 महिला पुलिस बटालियन और 3 महिला पुलिस रिजर्व बटालियन शुरू की जाएंगी।

- किसानों-मछुआरों के लिए

  • पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ किसानों को मिलेगा। इसके तहत 75 लाख किसानों को हर साल 6 हजार रुपए के अलावा राज्य की ओर से 4 हजार रु जोड़कर दिया जाएगा। यानी हर साल 10 हजार रुपए मिलेंगे। इसके अलावा 3 साल से किसानों को इस योजना का बंगाल में लाभ नहीं मिला है। ऐसे में 18 हजार की वह राशि भी दी जाएगी। कृषक सुरक्षा योजना के तहत भूमिहीन किसान को हर वर्ष 4,000 रु की सहायता मिलेगी। 5 हजार करोड़ का इंटरवेंशन फंड होगा, जिससे किसानों की उपज खरीदी जाएगी।
  • मत्स्य पालकों को हर वर्ष 6 हजार रुपये दिए जाएंगे। मछुआरों और भूमिहीन किसानों को 3 लाख रुपए का बीमा दिया जाएगा। किसान कार्ड की जगह उन्हें रुपे कार्ड देंगे।


- शरर्णाथियों के लिए

  • CAA को पहली ही कैबिनेट में लागू करेंगे। मुख्यमंत्री शरणार्थी योजना के तहत प्रत्येक शरणार्थी परिवार को पांच साल तक 10 हजार रुपया प्रतिवर्ष दिया जाएगा।
  • घुसपैठ रोकने के लिए सीमा सुरक्षा और मजबूत की जाएगी।


- स्वास्थ्य के लिए

  • पहली ही कैबिनेट में आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की जाएगी। इससे गरीबों को इलाज में आसानी होगी। राज्य में 3 नए एम्स बनाए जाएंगे। ये  उत्तर बंगाल, जंगलमहल और सुंदरवन क्षेत्र में बनेंगे।
  •  हर परिवार को शौचालय और साफ पीने का पानी की व्यवस्था की जाएगी।
  •  स्वास्थ्य क्षेत्र में 10 हजार करोड़ का कादंबिनी हेल्थ फंड बनाया जाएगा। 900 नई 108 एंबुलेंस लाई जाएंगी।
  •  हर ब्लॉक में नेताजी सुभाष चंद बोस बीपीओ की शुरुआत की जाएगी।
  •  2025 तक नर्सिंग, मेडिकल कॉलेज और पोस्ट ग्रेजुएशन में सीटें डबल की जाएंगी। 
  •  वन नेशन वन हेल्थ कार्ड जारी किए जाएंगे। 


शिक्षा-रोजगार के लिए 

  •  आईआईटी की तर्ज पर 5 संस्थान बनाए जाएंगे।
  •  बंगाल में सातवां वेतन आयोग सभी कर्मचारियों को दिया जाएगा।
  •  हर परिवार में 1 सदस्य को नौकरी सुनिश्चित की जाएगी। 


भ्रष्टाचार-गुंडाराज खत्म होगा

  •  बंगाल को भ्रष्टाचार से मुक्त करने के लिए CMO के अंतर्गत एंटी करप्शन हेल्प लाइन की शुरुआत होगी। इससे कोई भी नागरिक शिकायत सीधे मुख्यमंत्री तक पहुंचा पाएगा।
  •  बंगाल में चुनावी हिंसा खत्म की जाएगी। निष्पक्ष चुनाव हो, वो सुनिश्चित करेंगे और राजनीतिक हिंसा बंगाल में भूतकाल की बात हो जाएगी।
  • राजनीतिक हिंसा से पीड़ित हर परिवार को 25 लाख का मुआवजा। एसआईटी मामलों की जांच करेगी।

गरीबों के लिए

  • राज्य में 2 रुपए यूनिट बिजली देंगे।
  • सातों दिन साफ पानी की सप्लाई होगी।
  • प्रदेश में अन्नपूर्णा कैंटीन में 5 रुपए की दर से दिन में 3 बार भोजन उपलब्ध कराया जाएगा।
  • आयुष्मान योजना की शुरुआत की जाएगी। 


बंगाली संस्कृति के लिए ऐलान

  • 11 हजार करोड़ रुपये की सोनार बांग्ला फंड की शुरुआत करेंगे जो बंगाल के साहित्य, कला, संस्कृति और सारी विधाओं को प्रमोट करने का काम करेगा।
  • बंगाल की संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए गुरुदेव सेंटर ऑफ कल्चरल की स्थापना की जाएगी।
  • विश्वस्तरीय सोनार बांग्ला संग्रहालय की स्थापना की जाएगी।
  • कोलकाता की दुर्गा पूजा को बढ़ावा देकर ऐसी व्यवस्था करेंगे कि दुनिया भर के पर्यटक आएं।
  • स्कूलों में 10वीं तक की पढ़ाई बांग्ला भाषा में करना अनिवार्य किया जाएगा। इंजीनियरिंग और मेडिकल की पढ़ाई भी बांग्ला में हो इसकी शुरुआत करेंगे।
  • कोलकाता फिल्म महोत्सव का आयोजन करेंगे। पर्यटन के लिए 9 सर्किट की स्थापना करेंगे।
  • यूएन में बांग्ला को अधिकारिक भाषा बनाने के लिए प्रयास करेंगे।
  • सरकारी पत्राचार में बांग्ला का इस्तेमाल करने के लिए अध्यादेश लाया जाएगा।


मंदिरों के लिए

  • मंदिरों के नवीनीकरण के लिए 100 करोड़ का फंड जारी होगा। सभी पुरोहितों को 30 हजार रुपए महीना वेतन दिया जाएगा। 
  • बंगाल में बेरोकटोक हर धर्म का त्योहार मनाया जाए। विशेषकर सरस्वती पूजा और दुर्गा पूजा का त्योहार मनाने के लिए, भाजपा की सरकार बनने के बाद किसी को कोर्ट की मदद की जरूरत नहीं पड़ेगी।
  • गंगा सागर मेले के लिए 2500 करोड़ रुपए का प्रावधान होगा।


उद्योग धंधों के लिए

  • निवेशकों के लिए Invest Bangla की स्थापना की जाएगी।
  • अमूल के साथ मिलकर मिल्क प्रोसेसिंग यूनिट लगाई जाएंगी, ऐसी 5 मेगा यूनिट बनाई जाएंगी।
  • 10 लाख रुपए का लोन बिना गारंटी के MSME को दिया जाएगा।
  • उद्योगों को 15 दिन में अनुमति मिले इसलिए सिंगल विंडो सिस्टम लॉन्च करेंगे

 

अन्य ऐलान

  • 2 हजार का खेल कोष बनेगा, हर साल खेलो बांग्ला महाकुंभ किया जाएगा।
  • बस सेवाओं के लिए 10 हजार करोड़ का प्रावधान होगा। टर्मिनल के निर्माण के लिए 4600 करोड़ का प्रावधान होगा।
  • कोलकाता को 22 हजार करोड़ से विश्वस्तरीय शहर बनाएंगे। 10 मल्टीस्टोरी पार्किंग बनाई जाएंगी। 


कहां से आएगा पैसा?
घोषणा पत्र में ऐलानों के बाद जब अमित शाह ने पूछा गया कि इन योजनाओं के लिए पैसा कहां से आएगा, इस पर उन्होंने कहा कि 'मैं बनिया हूं। मुझ पर भरोसा रखना। पाई-पाई का हिसाब रखकर इसे बनाया गया है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios