Asianet News HindiAsianet News Hindi

Air Pollution : पाकिस्तान के लाहौर की हवा दुनिया में सबसे खराब, दिल्ली दूसरे नंबर पर

दिल्ली (Delhi) की हवा की गुणवत्ता (Air Quality) में मामूली सुधार हुआ है। एक हफ्ते पहले यह सबसे प्रदूषित शहर था, जो अब दूसरे नंबर पर आ गया है। बुधवार को पाकिस्तान (Pakistan) के लाहौर (Lahore) की हवा सबसे जयादा खराब रही।

Air Pollution Pakistan Lahore Delhi AQi Air Quality IQ air
Author
New Delhi, First Published Nov 24, 2021, 4:30 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। पाकिस्तान के सांस्कृति शहर के रूप में जाना जाने वाला लाहौर वायु प्रदूषण (Air pollution) के मामले में बुधवार को पहले नंबर पर रहा। शहर के ऊपर धुंध का घना बादल छाया रहा, जिससे यहां का एक्यूआई (AQI)203 पर जा पहुंचा। स्विटजरलैंड की Air Quality जांचने वाली कंपनी आईक्यूएयर (IQ air) ने यह जानकारी दी। कंपनी की लिस्ट के मुताबिक लाहौर प्रदूषित शहरों की उसकी सूची में सबसे ऊपर है। अमेरिकी पैमाने (US AQI) के अनुसार लाहौर (Lahore) का एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 187 रहा, जबकि दिल्ली दूसरे नंबर पर है। दिल्ली का एक्यूआई 183 दर्ज किया गया। एक हफ्ते पहले दिल्ली दुनिया में सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर बन गया था। यहां का AQI 400 के ऊपर तक पहुंच गया था। हालांकि, सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद सरकार ने कुछ प्रतिबंध लगाए और तेज हवाएं चलने से यहां की वायु गुणवत्ता में थोड़ा सुधार हुआ है। 

बागों का शहर था लाहौर, अब हवा जहरीली
लाहौर को कभी बागों का शहर कहा जाता था। 16वीं से 19वीं शताब्दी के बीच मुगल काल के दौरान यहां बड़ी संख्या में बाग थे। लेकिन तेजी से शहरीकरण और बढ़ती आबादी के कारण अब शहर में बहुत कम हरियाली बची है। लाहौर, कराची के बाद पाकिस्तान का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। यहां बिगड़ती एयर क्वालिटी के कारण डॉक्टर लोगों को सांस संबंधी बीमारियों से बचने के लिए मास्क पहनने की सलाह दे रहे हैं।

टॉप टेन प्रदूषित शहरों में भारत के 2 
 

शहर AQI
लाहौर (पाकिस्तान) 187
दिल्ली (भारत) 183
उलनबातोर (मंगोलिया)     173
कोलकाता भारत) 162
ढाका (बांग्लादेश) 156
बेलग्रेड (सर्बिया) 156
काठमांडू (नेपाल) 155
लीमा (पेरू) 153
तेहरान (ईरान) 133
हनोई (वियतनाम) 123


 सुप्रीम कोर्ट ने कहा- दिल्ली में AQI 100 हो तो प्रतिबंध हटाए जा सकते हैं
दिल्ली-NCR में वायु प्रदूषण (Air pollution) के मुद्दे पर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने सुनवाई की। उसने केंद्र से कहा कि मौसम जब गंभीर होता है, तब उपाए किए जाते हैं। कोर्ट ने केंद्र से अगले दो-तीन दिनों तक वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के उपायों को जारी रखने को कहा। इस बीच, अगर प्रदूषण का स्तर 100 हो जाता है, तो कुछ प्रतिबंध हटाए जा सकते हैं। पराली जलाने के मुद्दे पर सीजेआई (CJI) एनवी रमना ने कहा कि एक सरकारी वकील और हम न्यायाधीश इस मुद्दे पर चर्चा कर रहे हैं, नौकरशाही क्या कर रही है?  

यह भी पढ़ें
Delhi pollution: SC की फटकार-जब मौसम खराब होता है, तब उपाय किए जाते हैं, पराली को लेकर नौकरशाही क्या कर रही?
7th Pay Commission: जनवरी में फ‍िर बढ़ सकता है महंगाई भत्‍ता, जानिए कितना होगा इजाफा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios