Asianet News HindiAsianet News Hindi

कोरोना का आंतकः कनाडाई PM घर से चला रहे हैं सरकार, UN के कर्मचारी करेंगे वर्क फ्रॉम होम

कोरोना वायरस को लेकर तब सनसनी फैल गई जब खुद कनाडा के प्रधानमंत्री का परिवार इस संक्रामक बीमारी से अछूता नहीं रहा प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने बताया कि कैसे उनके बच्चे और पत्नी कोविड-19 के चलते अलग रह रहे हैं

Amid corona virus Canadian PM Trudeau is running government from home UN employees to work from home kpm
Author
New Delhi, First Published Mar 14, 2020, 11:59 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ओटावा/संयुक्त राष्ट्र: कोरोना वायरस को लेकर तब सनसनी फैल गई जब खुद कनाडा के प्रधानमंत्री का परिवार इस संक्रामक बीमारी से अछूता नहीं रहा। प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने बताया कि कैसे उनके बच्चे और पत्नी कोविड-19 के चलते अलग रह रहे हैं।

वहीं न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय के सभी कर्मचारियों को कोरोना वायरस के कारण शुक्रवार को कम से कम तीन सप्ताह के लिए घर से काम करने के लिए कहा गया है।

घर से देख रहे हैं सरकार का कामकाज 

प्रधानमंत्री ट्रूडो के बच्चे अपने-अपने कमरों में खेलते हुए, पत्नी अधिकतर समय फोन पर बिताती हुए दिखी और वह खुद घर से बैठकर सरकार का कामकाज देख रहे हैं। ट्रूडो ने ओटावा में अपने आधिकारिक आवास के बाहर एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि मुझे कोई लक्षण नहीं हैं। मैं अच्छा महसूस कर रहा हूं। तकनीक ने मुझे घर से काम करने में मदद की है।’’

अपनी पत्नी सोफी के कोविड-19 से संक्रमित पाए जाने के बाद प्रधानमंत्री ने पहली बार सार्वजनिक रूप से बात की। वह छोटी-सी एक जगह पर अकेले खड़े रहे और पत्रकारों की उनसे कई मीटर की दूरी थी। बृहस्पतिवार देर रात को यह घोषणा की गई थी कि 48 वर्षीय कनाडाई नेता, उनकी 44 वर्षीय पत्नी और छह से 12 साल की उम्र के तीन बच्चे संसद से कुछ किलोमीटर दूर अपने घर में 14 दिन तक अलग रहेंगे।

कनाडा ने संसद भी बंद कर दी है और देश के बाहर गैर जरूरी यात्रा न करने की सलाह दी है। मुख्य जन स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. टेरेसा टैम ने लोगों से अधिक से अधिक दूरी बनाने, हाथ न मिलाने और चुंबन न लेने की भी सलाह दी है।

UN मुख्यालय में घर से काम करने का आदेश 

 न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय के सभी कर्मचारियों को कोरोना वायरस के कारण शुक्रवार को कम से कम तीन सप्ताह के लिए घर से काम करने के लिए कहा गया है। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने कहा, ‘‘आपकी सेहत और कुशल क्षेम मेरी सबसे बड़ी चिंता है।, सुरक्षित रहे, दयालु रहे।’’

संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में कोरोना वायरस के पहले मामले में फिलीपीन का एक राजनयिक इस सप्ताह संक्रमित पाया गया। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार को एलान किया कि कोरोना वायरस महामारी के चलते उसके कई क्रूज जहाज 30 दिनों के लिए अमेरिकी बंदरगाहों से अपनी यात्राओं को स्थगित करेंगे।

ट्रम्प तक पहुंचा खतरा

अमेरिका के कई जहाजों के कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद यह कदम उठाया गया है। इस बीच, अमेरिका के मियामी शहर के मेयर ब्राजील के एक वरिष्ठ अधिकारी से मुलाकात के बाद कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इस अधिकारी ने ट्रम्प से भी मुलाकात की थी।

मेयर फ्रांसिस सुआरेज ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि उन्हें कोई लक्षण महसूस नहीं हो रहे हैं और उन्होंने उनसे हाथ मिलाने वाले या उनके करीब रहने वाले किसी भी व्यक्ति को सोमवार से अपने आप को 14 दिनों के लिए अलग करने की सलाह दी।

कोरोना वायरस के डर के चलते न्यूजीलैंड ने क्राइस्टचर्च मस्जिद हमले की पहली वर्षगांठ पर रविवार को होने वाले कार्यक्रम को रद्द कर दिया है। प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने कहा, ‘‘यह व्यावहारिक फैसला है। हमें इसे रद्द करके बहुत दुख हो रहा है लेकिन ऐसी भयानक त्रासदी को याद करके हमें और नुकसान पहुंचने का खतरा नहीं उठाना चाहिए।’’

विदेशी यात्रियों के लिए सीमाएं बंद 

पोलैंड और यूक्रेन ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए विदेशी यात्रियों के लिए अपनी सीमाओं को बंद कर दिया है। पोलैंड में कम से कम 68 लोग संक्रमित पाए गए हैं जबकि यूक्रेन में एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है। दूसरी ओर, डच राष्ट्रीय एयरलाइन केएलएम ने शुक्रवार को कहा कि कोरोना वायरस के असर को झेलने के कारण वह 2,000 नौकरियों में कटौती करेगी तथा इसके साथ ही उसने खर्च कम करने के अन्य कदमों की भी घोषणा की।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी पीटर एलबर्स ने केएलएम की वेबसाइट पर पोस्ट एक वीडियो संदेश में कहा, ‘‘आगामी महीनों में हम 1,500 से 2,000 नौकरियां कम करेंगे जिसका मतलब है कि न केवल आने वाले हफ्तों बल्कि आगामी महीनों में हमारे पास कम सहकर्मी होंगे।’’ केएलएम में करीब 33,000 कर्मचारी हैं।

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios