नई दिल्ली. बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के संस्थापक बिल गेट्स ने एक बार फिर भारत के 'आधार' (Aadhaar) सिस्टम की तारीफ की है। उन्होंने कहा, भारत के लिए आधार और एनपीसीआई डिजिटल वित्तीय प्रणाली एक बार फिर विशाल संपत्ति साबित हुए हैं। इससे पहले भी उन्होंने आधार तकनीक की तारीफ करते हुए कहा था कि इससे गोपनीयता को लेकर कोई समस्या नहीं है।

बिल गेट्स ने टाइम्स ऑफ इंडिया से विशेष बातचीत में कहा, डिजिटल माध्यम से भुगतान करना एक शानदार चीज है। भारत ने जिस स्तर से यह किया, वैसा दुनिया के किसी दूसरे देश ने नहीं किया। उन्होंने कहा, भारत अपनी डिजिटल वित्तीय क्षमताओं का इस्तेमाल करने में सक्षम था। वहां आधार और एनपीसीआई भुगतान प्रणाली बहुत अच्छी तरह से काम करती है।

अन्य देशों को भी अपनाना चाहिए ये स्कीम
इससे पहले 2018 में भी एक कार्यक्रम में बिल गेट्स ने आधार सिस्टम की तारीफ की थी। उन्होंने कहा, इस आधार की तकनीक में गोपनीयता की कोई समस्या नहीं है। उन्होंने कहा था कि बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने अन्य देशों तक ये तकनीक पहुंचाने के लिए फंड भी दिया है, क्योंकि ये अनुसरण करने योग्य है। गेट्स ने कहा था कि अन्य देशों को भी यह टेक्नोलॉजी अपनाना चाहिए।

क्या है एनपीसीआई? 
नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन इंडिया (NPCI) एक गैर-लाभकारी कंपनी है, जिसका उद्देश्य भारत में संपूर्ण बैंकिंग प्रणाली के साथ-साथ भौतिक और इलेक्ट्रॉनिक भुगतान प्रणालियों के लिए बुनियादी ढांचा उपलब्ध कराना है। यह भारतीय रिजर्व बैंक के मार्गदर्शन में 10 सबसे बड़े भारतीय बैंकों द्वारा स्थापित किया गया था।