Asianet News Hindi

अमेरिका चुनाव: मिशिगन और जॉर्जिया में ट्रम्प को निराशा, कोर्ट ने मुकदमों को खारिज कर दिया

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए फाइनल रिजल्ट आना बाकी है। इस बीच खबर है कि अमेरिकी अदालतों ने मिशिगन और जॉर्जिया में ट्रम्प के किए मुकदमों को खारिज कर दिया है। चुनावी प्रक्रिया को लेकर ट्रम्प ने आरोप लगाया था कि मिशिगन और जॉर्जिया में वोटों की धांधली हुई है। 
 

Court dismisses Trump case in Michigan and Georgia during US presidential election count kpn
Author
New Delhi, First Published Nov 6, 2020, 7:30 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए फाइनल रिजल्ट आना बाकी है। इस बीच खबर है कि अमेरिकी अदालतों ने मिशिगन और जॉर्जिया में ट्रम्प के किए मुकदमों को खारिज कर दिया है। चुनावी प्रक्रिया को लेकर ट्रम्प ने आरोप लगाया था कि मिशिगन और जॉर्जिया में वोटों की धांधली हुई है। 

काउंटिंग रोकने की थी मांग
ट्रम्प की टीम ने आरोप लगाया था कि मिशिगन में वोटिंग के दौरान उनके लोगों को अंदर जाने से रोक दिया गया था। इसलिए काउंटिंग रोक दी जाए, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया। जॉर्जिया में आरोप था कि वहां अनुचित मतपत्र भी गिने जा रहे थे। 

बाइडन को मिले रिकॉर्ड वोट
बाइडन अमेरिकी इतिहास में सर्वाधिक मत पाने वाले प्रत्याशी बन गए हैं। उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा का रिकॉर्ड तोड़ा है। बाइडन को 7.07 करोड़ मत मिल चुके हैं। यह ओबामा से तीन लाख ज्यादा है। बाइडन लोकप्रिय मतों में ट्रंप से 27 लाख मत आगे हैं। ट्रंप 6.732 करोड़ मत पाकर ओबामा के रिकॉर्ड के करीब है। अमेरिका के 120 साल के इतिहास में इस बार सर्वाधिक 66.6 फीसदी वोटिंग हुई थी।

बहुमत के करीब पहुंचे बाइडेन, ट्रम्प की वापसी मुश्किल
बाइडेन को 264 इलेक्टोरल वोट मिल चुके हैं। वहीं, डोनाल्ड ट्रम्प को 214 वोट मिले हैं। मिशिगन और विस्कॉन्सिन में जीत हासिल की है। इन दोनों राज्यों में 2016 में ट्रम्प जीते थे। ऐसे में माना जा रहा है कि अब ट्रम्प के लिए वापसी मुश्किल है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios