Asianet News HindiAsianet News Hindi

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के मार-ए-लागो रिसॉर्ट पर FBI की रेड, कुछ तो सीक्रेट है इनके पास

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के फ्लोरिडा स्थित मार-ए-लागो रिसॉर्ट पर सोमवार को FBI ने सर्च की। ट्रम्प ने कहा कि FBI ने रिसॉर्ट में छापा मारा और तिजोरी तोड़ी। कहा जा रहा है कि यह रेड ट्रम्प द्वारा आफिसियल राष्ट्रपति रिकॉर्ड गायब करने की वजह से हो सकती है।

FBI Searches USA Former President Donald Trump Mar-a-Lago estate in Florida kpa
Author
First Published Aug 9, 2022, 6:26 AM IST

वर्ल्ड न्यूज. हमेशा विवादों में रहने वाले अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प( Former USA President Donald Trump) के फ्लोरिडा में पॉम बीच स्थित मार-ए-लागो रिसॉर्ट-क्लब(Mar-a-Lago resort) पर अमेरिकी समयानुसार सोमवार को फेडरल ब्यूरो इन्वेस्टिगेशन(FBI) ने सर्च ऑपरेश किया है। ट्रम्प ने कहा कि FBI एजेंट्स ने रिसॉर्ट में छापा मारा और एक तिजोरी तोड़ी। कहा जा रहा है कि यह रेड ट्रम्प द्वारा आफिसियल राष्ट्रपति रिकॉर्ड को गायब करने की अमेरिकी न्याय विभाग( U.S. Justice Department investigation) की जांच के बीच की कोई कड़ी हो सकती है। ट्रम्प ने कहा कि FBI एजेंट्स के एक बड़े ग्रुप ने रिसॉर्ट पर छापा मारा है। हालांकि FBI के हेड क्वार्टर और मियामी स्थित इसके रीजनल आफिस दोनों जगहों से कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है।

चुनाव हारने के बाद कई महत्वपूर्ण दस्तावेज उठा लाए थे
डोनाल्ड ट्रम्प का राष्ट्रपति पद के अंतिम दिनों का कार्यकाल काफी नाटकीय रहा था। इस जांच के विभिन्न पहलुओं से अच्छे से वाकिफ लोगों के अनुसार यह सर्च उस मटैरियल(डॉक्यूमेंट्स) पर फोकस हो सकती है, जिसे ट्रम्प व्हाइट हाउस छोड़ते समय अपने प्राइवेट क्लब और रेसिडेंट मार-ए-लागो उठाकर ले आए थे। जिन बक्सों को ट्रम्प उठाकर लाए थे, उनमें राष्ट्रपति से जुड़े कई महत्वपूर्ण दस्तावेज हो सकते हैं। 2020 के चुनाव में हारने के बावजूद ट्रम्प सत्ता नहीं छोड़ना चाहते थे। उस दौरान हिंसा भी हुई थी।

रूस से सांठगांठ पर भी फंसे थे
ट्रम्प पहले भी FBI के निशाने पर रहे हैं। 2019 में FBI ने इस बात की जांच की थी कि क्या ट्रम्प रूस के लिए काम कर रहे थे। ट्रम्प जब राष्ट्रपति थे, तब मई 2017 में संघीय जांच ब्यूरो यानी FBI के तत्कालीन चीफ जेम्स बी कोमी को अचानक पद से हटा दिया था। वे राष्ट्रपति पद के लिए ट्रम्प के अभियान में रूसी सरकार के कथित हस्तक्षेप की जांच कर रहे थे। FBI  इसकी जांच कर रही थी कि ट्रम्प जानते-समझते रूस के लिए काम कर रहे थे या अनजाने में फंस गए थे।

2024 में फिर इलेक्शन लड़ने की बात कह चुके हैं
जून, 2022 को ट्रम्प का एक बयान सामने आया था। इसमें उन्होंने कहा था कि अगर वे 2024 में राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ते हैं और जीत जाते हैं, तो कैपिटल हिल पर छह जनवरी को हुई हिंसा के आरोपियों को माफ कर देंगे। यह बात ट्रंप ने टेक्सास में एक रैली में कही थी। बता दें कि चुनाव हारने के बाद 2021 में छह जनवरी को डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों ने यूएस कैपिटल हिल पर हमला बोल दिया था। इसे 1812 के युद्ध के बाद अमेरिकी संसद पर सबसे बड़ा हमला कहा गया था। दंगे के आरोप में 50 राज्यों में 725 से अधिक व्यक्तियों को गिरफ्तार किया था।

यह भी पढ़ें
पुतिन के अलग किस्म के कान, अजीब चाल-ढाल देखकर फैली एक विचित्र अफवाह, ये कोई और है?
विदेशों से गिफ्ट में मिले सामान मुफ्त में ले उड़े पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios